नई दिल्ली: राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (एनएचआरसी) ने अनाज मंडी में आग की भीषण घटना को लेकर दिल्ली सरकार, शहर के पुलिस प्रमुख और उत्तरी एमसीडी से छह हफ्ते में विस्तृत रिपोर्ट मांगी है. आयोग ने अग्निकांड के बारे में कहा कि तबाही होने का इंतजार ही कर रही थी. एनएचआरसी ने दिल्‍ली सरकार, दिल्‍ली पुलिस कमिश्‍नर और उत्‍तरी दिल्‍ली नगर निगम के कमिश्‍नर से पूछा है कि लापरवाही करने वाले अधिकारी और कर्मचारियों पर अब तक क्‍या कार्रवाई की गई है.Also Read - Delhi News: कोरोना के नए वैरिएंट Omicron ने बढ़ाई टेंशन, दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने बुलाई DDMA की अहम बैठक

एनएचआरसी ने मध्य दिल्ली के अनाज मंडी इलाके में रविवार सुबह अग्निकांड में कम से कम 43 लोगों की मौत के मामले में मीडिया की खबरों का स्वत: संज्ञान लिया है. आयोग ने दिल्ली सरकार के मुख्य सचिव, दिल्ली पुलिस आयुक्त और उत्तरी दिल्ली नगर निगम के आयुक्त को नोटिस जारी किए हैं. Also Read - Mukhyamantri Tirth Yatra Yojana: दिल्ली सरकार ने मुख्यमंत्री तीर्थयात्रा योजना में करतारपुर साहिब को शामिल किया

Also Read - Delhi News: तीन दिसंबर से शुरू हो रही है मुख्यमंत्री तीर्थ योजना, जानिए क्या हैं शर्तें, कैसे करें अप्लाई

एक बयान में कहा गया कि लापरवाह अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई और मृतकों और घायलों के परिजनों को राहत और पुनर्वास के विवरण के साथ छह हफ्ते के भीतर रिपोर्ट पेश करने को कहा गया है. घटना के वक्त 100-150 लोग सो रहे थे और दम घुटने से अधिकतर लोगों की मौत हुई.