नई दिल्ली: राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (एनएचआरसी) ने एक मालगाड़ी की चपेट में आने से 16 प्रवासी श्रमिकों की मौत पर शुक्रवार को महाराष्ट्र के मुख्य सचिव और औरंगाबाद के जिला मजिस्ट्रेट को नोटिस जारी किया. Also Read - वर्क फ्रॉम होम: 'बॉस' रात में करते हैं VIDEO CALL, कम कपड़ों में करते हैं मीटिंग, परेशान हैं महिलाएं

आयोग ने एक बयान में कहा कि उसने शुक्रवार तड़के मालगाड़ी की चपेट में आने से 16 प्रवासी श्रमिकों की मौत के बारे में मीडिया की खबरों का संज्ञान लिया है. Also Read - सऊदी अरब ने फिर से खोलीं 90 हजार मस्जिदें, मक्का अब भी बंद

बता दें कि आज सुबह हुए इस हादसे में 14 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई और दो लोगों ने बाद में दम तोड़ दिया. ये लोग अपने गृह राज्य मध्यप्रदेश लौट रहे थे. अधिकारियों के अनुसार, वे थकान के कारण पटरियों पर ही सो गए थे. Also Read - Coronavirus Lockdown: स्कूलों को फिर से खोलने की योजना पर अभिभावकों की बढ़ी चिंता, जानें क्या है सरकार की प्लानिंग

इसमें कहा गया है कि अधिकारियों को चार सप्ताह के भीतर विस्तृत रिपोर्ट पेश करने का निर्देश दिया गया है. इसमें कोरोना वायरस के कारण लागू लॉकडाउन से बुरी तरह प्रभावित गरीब लोगों, खास कर प्रवासी मजदूरों के लिए भोजन, आश्रय और अन्य बुनियादी सुविधाएं प्रदान करने के लिए राज्य और जिला अधिकारियों द्वारा उठाए गए कदमों का ब्यौरा भी देने को कहा
गया है.