नई दिल्ली: राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (एनएचआरसी) ने एक मालगाड़ी की चपेट में आने से 16 प्रवासी श्रमिकों की मौत पर शुक्रवार को महाराष्ट्र के मुख्य सचिव और औरंगाबाद के जिला मजिस्ट्रेट को नोटिस जारी किया.Also Read - Nationwide Lockdown: कोरोना के मामले बढ़े तो यहां लगा 20 दिनों का राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन, जानें क्या खुलेगा क्या रहेगा बंद

आयोग ने एक बयान में कहा कि उसने शुक्रवार तड़के मालगाड़ी की चपेट में आने से 16 प्रवासी श्रमिकों की मौत के बारे में मीडिया की खबरों का संज्ञान लिया है. Also Read - हवाई यात्रा में अब फिर ले सकेंगे खाने और समाचार पत्र पढ़ने का आनंद, उड्डयन मंत्रालय ने दी मंजूरी

बता दें कि आज सुबह हुए इस हादसे में 14 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई और दो लोगों ने बाद में दम तोड़ दिया. ये लोग अपने गृह राज्य मध्यप्रदेश लौट रहे थे. अधिकारियों के अनुसार, वे थकान के कारण पटरियों पर ही सो गए थे. Also Read - China में फिर बढ़ने लगे COVID-19 के मामले, यूनिवर्सिटी कैंपस और हॉस्टल बंद, 1500 छात्र Isolate

इसमें कहा गया है कि अधिकारियों को चार सप्ताह के भीतर विस्तृत रिपोर्ट पेश करने का निर्देश दिया गया है. इसमें कोरोना वायरस के कारण लागू लॉकडाउन से बुरी तरह प्रभावित गरीब लोगों, खास कर प्रवासी मजदूरों के लिए भोजन, आश्रय और अन्य बुनियादी सुविधाएं प्रदान करने के लिए राज्य और जिला अधिकारियों द्वारा उठाए गए कदमों का ब्यौरा भी देने को कहा
गया है.