नई दिल्ली: पंजाब के लुधियाना में पिछले वर्ष एक पादरी और आरएसएस के एक नेता की हत्या के मामले में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने कुछ खालिस्तानी आतंकियों सहित 15 लोगों के खिलाफ आरोपपत्र दाखिल किया. जांच एजेंसी ने मोहाली की एक विशेष अदालत में दायर अपने आरोपपत्र में कहा है कि इन दो लोगों की हत्या की साजिश की जड़ें पाकिस्तान, ऑस्ट्रेलिया, फ्रांस, इटली, ब्रिटेन और संयुक्त अरब अमीरात सहित कई देशों में फैली हुई हैं. Also Read - RSS में नए चेहरे को मिल सकता है मौका, नंबर दो के पद पर कौन संभालेगा जिम्‍मेदारी?

एनआईए के आरोपपत्र में हरमीत सिंह, गुरजिंदर सिंह, गुरशरणबीर सिंह, गुरजंत सिंह ढिल्लों के नाम शामिल हैं. इनके पाकिस्तान, इटली, ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया में होने का संदेह है. आरोपपत्र में हरदीप सिंह, रमनदीप सिंह, धरमिंदर सिंह, अनिल कुमार, जगतार सिंह जोहैल, अमनिंदर सिंह, मनप्रीत सिंह, रविपाल सिंह, पहाड़ सिंह और मलूक तोमर के नाम भी दर्ज हैं. Also Read - हिन्दू कभी भारत विरोधी नहीं हो सकते, देशभक्ति उनका बुनियादी चरित्र एवं प्रकृति है : भागवत

एनआईए ने पादरी सुल्तान मसीह और आरएसएस कार्यकर्ता अमित शर्मा की हत्याओं के संबंध में दो मामले दर्ज किए थे. Also Read - यूपी में RSS के कार्यालय पर हमला, तोड़फोड़ की गई, तीन गिरफ्तार, दो पुलिसकर्मी सस्पेंड

(इनपुट: एजेंसी)