नई दिल्ली: राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने शुक्रवार को जिहादी आतंकवाद को बढ़ावा देने का मामला दर्ज किया है. एनआईए के एक प्रवक्ता ने कहा कि आतंकवाद रोधी जांच एजेंसी ने गृह मंत्रालय (एमएचए) के एक आदेश के अनुसरण में जांच अपने हाथ में ले ली है. इससे पहले पश्चिम बंगाल के कोलकाता में इस साल 10 जुलाई को आईपीसी और विदेशी अधिनियम की कई धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया था.Also Read - West Bengal: NIA जांच के बीच फिर अर्जुन सिंह के घर के पास हुई बमबारी, भाजपा नेता की बढ़ाई गई सुरक्षा

अधिकारी ने बताया कि मामला बांग्लादेशी नागरिक एस. के. शब्बीर, जोसेफ और अन्य, जो अवैध रूप से भारत में प्रवेश कर चुके थे और आतंकवादी संगठनों के सदस्य या उनके प्रति सहानुभूति रखने वाले थे. अधिकारी ने कहा कि शब्बीर, जोसेफ ने अपने अज्ञात सहयोगियों के साथ युद्ध छेड़ने की साजिश रची थी और भारत सरकार के साथ-साथ पड़ोसी बांग्लादेश के खिलाफ कमजोर मुस्लिम युवाओं को आपराधिक बल के माध्यम से लोकतांत्रिक ढंग से चुनी गई सरकारों को हटाकर खिलाफत स्थापित करने के लिए प्रेरित किया गया था. Also Read - ढाका की पिचों पर 10-15 मैच खेलने से कई बल्लेबाजों का करियर खत्म हो जाएगा: शाकिब

अधिकारी ने कहा कि वे शेख सब्बीर नाम के एक फेसबुक प्रोफाइल के माध्यम से विभिन्न जिहादी टेक्स्ट, पोस्ट और वीडियो भेजने और साझा करके समाज में अपनी विचारधारा और नफरत का प्रचार कर रहे थे. Also Read - ICC T20 World Cup: Shakib Al Hasan बोले- पहली बार विश्व कप जीतने उतरेगी बांग्लादेशी टीम

(इनपुट आईएएनएस)