नई दिल्ली: उच्चतम न्यायालय की पांच सदस्यीय पीठ निर्भया मामले में मौत की सजा पाने वाले चार में से दो दोषियों की ओर से दायर समीक्षा याचिका पर आज यानी 14 जनवरी को सुनवाई करेगी. न्यायमूर्ति एन वी रमणा, न्यायमूर्ति अरुण मिश्रा, न्यायमूर्ति आर एफ नरीमन, न्यायमूर्ति आर भानुमति और न्यायमूर्ति अशोक भूषण की पीठ विनय शर्मा और मुकेश की ओर से दायर समीक्षा याचिका पर अपराह्न पौन दो बजे सुनवाई करेगी. Also Read - INS विराट संग्रहालय में तब्दील नहीं हो पाएगा, याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा- आप बहुत देर से आए

फ्लाईपास्ट में पहली बार दिखेंगे चिनूक और अपाचे हेलीकॉप्टर, वायुसेना की झांकी में होंगे राफेल, तेजस Also Read - कुरान की आयतों पर रोक की याचिका को SC ने किया खारिज, वसीम रिजवी पर लगाया 50 हजार का जुर्माना

समीक्षा याचिकाओं पर फैसला न्यायाधीशों के कक्ष में होता है. यह किसी भी व्यक्ति के लिए सजा से बचने का अंतिम न्यायिक रास्ता है. मौत की सजा पाने वाले अन्य दो दोषियों अक्षय और पवन गुप्ता ने समीक्षा याचिका दायर नहीं की है. Also Read - Coronavirus Updates: सुप्रीम कोर्ट के 50% स्टाफ कोरोना वायरस से संक्रमित, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये सुनवाई करेंगे जज

गौरतलब है कि निचली अदालत ने चारों दोषियों को 22 जनवरी को सुबह सात बजे फांसी देने के लिए मौत का वारंट जारी कर दिया है. अगर सुप्रीम कोर्ट उनकी दलीलों को खारिज कर देता है तो इसके बाद दोनों के पास केवल मर्सी पिटीशन का ही सहारा होगा.