Nirmala Sitharaman Press Conference: केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज एक बार फिर प्रेस कांफ्रेंस कर प्रधानमंत्री द्वारा घोषित 20 लाख करोड़ रुपए के आर्थिक पैकेज के बारे में विस्तृत जानकारी दी. एक दिन पहले वित्त मंत्री ने 6 लाख करोड़ रुपयों के आवंटन की घोषणा की थी. MSME सेक्टर के बारे में पैकेज की घोषणा हुई थी. आज दूसरा दिन है जब उन्होंने आर्थिक पैकेज को लेकर प्रेस कांफ्रेंस की है. आज उन्होंने प्रवासी मजदूरों, स्ट्रीट वेंडर्स (रेहड़ी पटरी वाले), छोटे किसानों और शहरी गरीबों के लिए भी घोषणाएं की हैं. Also Read - WATCH: कड़कती बिजली के बीच धोनी ने निकाली बाइक, बेटी जीवा को कराई सैर

– घर लौटने वाले मजदूर अपने इलाके में ही मनरेगा के तहत काम कर सकेंगे. मानसून में भी मनरेगा का काम चलेगा. मनरेगा से मजदूरों की मदद के लिए 1.4 करोड़ रोजगार सृजन किया जाएगा. न्यूनतम वेतन का अंतर खत्म होगा. Also Read - दिल्ली के सभी बॉर्डर सील, एंट्री के लिए आपके पास होना चाहिए यह पास

– न्यूनतम वेतन का लाभ तीस प्रतिशत वर्कर ही उठा पाते हैं. कम से कम न्यूनतम वेतन होना चाहिए. इसलिए दिहाड़ी 182 रुपए से बढ़ाकर 202 रुपए किए गए हैं. सभी मजदूरों को नियुक्ति पत्र मिलेंगे. भेदभाव ख़त्म करेंगे. न्यूनतम वेतन का सरलीकरण किया जाएगा. Also Read - वर्क फ्रॉम होम: 'बॉस' रात में करते हैं VIDEO CALL, कम कपड़ों में करते हैं मीटिंग, परेशान हैं महिलाएं

– हर साल मजदूरों के स्वास्थ्य का चेक अप होगा.
– श्रमिक एजेंटों के जरिए नहीं रखे जाएंगे.
– महिलाओं के लिए काम के क्षेत्र खुले हैं. वह अगर रात में भी काम करती हैं तो उनके लिए अलग व्यवस्था होगी.
– अगले दो महीने के लिए मजदूरों को फ्री राशन दिया जाएगा. जिनके पास कार्ड नहीं हैं, उन्हें भी राशन दिया जाएगा. पांच-पांच किलो गेंहू, चावल, और चना दिया जाएगा.

– 8 करोड़ प्रवासी मजदूरों को इसका फायदा मिलेगा.
– इसके लिए 3500 करोड़ का इंतज़ाम किया जा रहा है.
– एक देश एक राशन कार्ड, हर शहर में एक राशन कार्ड चलेगा