नागपुर: केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने बुधवार को कहा कि नौकरियों में स्थानीय लोगों को प्राथमिकता दी जानी चाहिए. साथ ही उन्होंने कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो हम इसके लिये एक मजबूत कानून भी लेकर आयेंगे. वह नागपुर में भारतीय प्रबंधन संस्थान (आईआईएम) के स्थायी परिसर के भूमि पूजन समारोह में बोल रहे थे.

सड़क परिवहन, राजमार्ग एवं जहाजरानी मंत्री ने कहा, ‘‘भूमिपुत्रों को यहां एमआईएचएएन (मल्टी मॉडल इंटरनेशनल हब एयरपोर्ट) में रोजगार मिलना चाहिए.’’ गडकरी ने कहा कि मुंबई के पास जवाहर लाल नेहरू पत्तन न्यास (जेएनपीटी) के विकास के जरिये अगले कुछ वर्षों में कम से कम 1.25 लाख नौकरियां पैदा होंगी.

BJP सांसद से जूतों से पिटे MLA ने घेरा कलेक्ट्रेट, गिरफ्तारी की मांग, हाईकमान ने कहा- घटना दुर्भाग्यपूर्ण

उन्होंने कहा, ‘‘मैंने (अधिकारियों) को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है कि जेएनपीटी में कम से कम 80 प्रतिशत नौकरियां तटीय कोंकण क्षेत्र के स्थानीय लोगों को मिलें.’’ इस अवसर पर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने कहा कि परियोजना की घोषणा कांग्रेस-राकांपा लोकतांत्रिक मोर्चा सरकार के कार्यकाल के दौरान हुई थी, लेकिन इस पर काम 10 साल बाद शुरू हुआ. फड़णवीस ने कहा कि एमआईएचएएन के अंतर्गत आने वाली महाराष्ट्र एयरपोर्ट डेवलपमेंट कंपनी लिमिटेड ने परियोजना से प्रभावित व्यक्तियों के लिये बेहतर काम किया है.