shotgun

पटना: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नेता शत्रुघ्न सिन्हा ने शुक्रवार को कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) अध्यक्ष लालू यादव में यदि गठबंधन हो जाता है तो आगामी बिहार विधानसभा चुनाव में भाजपा को मुसीबत का सामना करना पड़ सकता है। सिन्हा ने कहा, “नीतीश कुमार और लालू प्रसाद अब भी काफी लोकप्रिय हैं। यदि दोनों नेता औपचारिक तौर पर साथ हो जाते हैं, तो भाजपा के लिए चुनौती पैदा कर सकते हैं।” यह भी पढ़े:पी.के. सिन्हा बने केंद्र के नए कैबिनेट सचिव

उन्होंने कहा कि पार्टी के नेताओं को अपने विरोधियों को कमजोर नहीं समझना चाहिए। उन्होंने कहा कि पार्टी को नई रणनीति तैयार करनी चाहिए, क्योंकि नीतीश और लालू एक साथ भाजपा के विरोध में खड़े होंगे। उन्होंने कहा कि भाजपा को आगामी विधानसभा चुनाव में नीतीश कुमार के विरुद्ध एक मजबूत नेतृत्व चाहिए। सिन्हा ने यहां संवाददाताओं से कहा, “आगामी विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा को एक कप्तान चाहिए। भाजपा को अपने प्रतिद्वंद्वी के विरुध एक नेता पेश करना चाहिए।”

उन्होंने कहा कि पार्टी के संसदीय बोर्ड और राज्यस्तरीय नेताओं को एक नाम तय करना चाहिए, जो चुनाव में पार्टी का नेतृत्व करे। उन्होंने कहा कि पार्टी का नेता ऐसा होना चाहिए, जिसकी छवि स्वच्छ हो, जो लोकप्रिय हो। उन्होंने साथ ही कहा, “मैं मुख्यमंत्री की दौर में नहीं हूं। लेकिन यदि पार्टी चाहेगी, तो मैं कोई भी भूमिका लेने के लिए तैयार हूं।”