देश के अलग-अलग नेताओं की अलग-अलग राय है जेएनयू छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार के भाषण को लेकर। आपको बता दें की कन्हैया को खुलकर बहुत सारा समर्थन मिल रहा है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के बाद अब बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार ने भी कन्हैया के भाषण की खुल के तारीफ की है। वहीं बीजेपी के गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कन्हैया के मामले को क़ानूनी करवाई बताया।

बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार ने कन्हैया के समर्थन में यह कहा है की कन्हैया ने किसिस भी तरह से देश के विरोध में कुछ नहीं कहा था। नितीश कुमार ने कहा की कन्हैया ने देश से आजादी नहीं मांगी थी बल्कि उन्होंने देश के अंदर आजादी मांगी थी। नितीश कुमार कन्हैया के भाषण से इतने प्रभावित हुए हैं की उन्होंने यह भी कह दिया है की कन्हैया ने एक प्रभावशाली भाषण दिया, उन्होंने जो कुछ भी कहा वह सही था। यह भी पढ़ें: जेल में JNU छात्र ने छत से लगाई छलांग, छात्र से हीटर पर कराया गया था पेशाब

नितीश कुमार ने अपने इस बयान में कहा है की एक छात्र नेता को इस तरह से परेशान करने की कोशिश करना और उस पर देशद्रोह जैसा मामला लगाना उसे परेशान करने का प्रमाण देता है। वहीं नितीश कुमार ने कन्हैया के भाषण से खुश होकर कहा है की कन्हैया ने बिलकुल सही कहा है। हमे देश से नहीं बल्कि देश के भीतर आज़ादी चाहिए। कन्हैया का साथ देते हुए नितीश कुमार ने कहा है की कन्हैया देश का बेटा है और वह कभी देश के विरोध में कुछ गलत नहीं बोल सकता। कन्हैया के बातो को गलत लिया गया है। और उसे देश के सामने तोड़ मड़ोड़ के पेश किया गया है।