नई दिल्ली: हरियाणा कांग्रेस में गुटबाजी की खबरों के बीच पार्टी की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष अशोक तंवर ने कहा है कि राज्य में कोई गुटबाजी नहीं है और जरूरत पड़ने पर सभी नेता राहुल गांधी के नेतृत्व पर एक मंच पर आएंगे. आगामी रविवार को पानीपत में हरियाणा की खट्टर सरकार के खिलाफ ‘पोल खोल, हल्ला बोल’ रैली करने जा रहे तंवर ने यह भी दावा किया कि राज्य की जनता में भाजपा के खिलाफ भारी आक्रोश है और लोकसभा चुनाव के नतीजों में इसका असर साफ दिखेगा. Also Read - केंद्र सरकार पर कांग्रेस का आरोप, डर कर बदला दवा देने का फैसला, 1971 में इंदिरा गांधी ने दिया था करारा जवाब

तंवर ने बातचीत में कहा, ‘कांग्रेस में कोई गुटबाजी नहीं है. जरूरत पड़ने पर सभी नेता राहुल गांधी के नेतृत्व में जरूर एक मंच पर दिखेंगे. कांग्रेस के सभी नेताओं का मकसद भाजपा के कुशासन से हरियाणा को मुक्ति दिलाना है.’ दरअसल, आगामी रविवार को पंचकूला में महिला कांग्रेस का एक कार्यक्रम प्रस्तावित है जिसमें पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र हुड्डा, वरिष्ठ नेता रणदीप सुरजेवाला, कुमारी शैलजा और हरियाणा कांग्रेस के कई अन्य नेताओं के शामिल होने की संभावना है. तंवर इसमें शामिल नहीं हो रहे हैं. Also Read - कांग्रेस ने सांसदों के वेतन में कटौती का स्वागत किया, सांसद निधि बहाल करने की मांग

तंवर ने कहा कि अगर पानीपत में पार्टी की रैली प्रस्तावित नहीं होती तो वह महिला कांग्रेस के कार्यक्रम में जरूर शामिल होते. खट्टर सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा, ‘राज्य में कानून-व्यवस्था नाम की कोई चीज नहीं रह गई है. राज्य की जनता में भारी आक्रोश है और आगामी चुनावों में जनता बीजेपी को सबक सिखाएगी.’ Also Read - 25,500 से ज्यादा तबलीगी जमात के सदस्य क्वारंटाइन में रखे गए, हरियाणा के 5 गांव सील: गृह मंत्रालय