नई दिल्ली: उत्तर भारत के मैदानी इलाकों में उमस भरी गर्मी से जूझ रहे राजस्थान, हरियाणा, दिल्ली, पश्चिमी और दक्षिणी उत्तर प्रदेश को अभी बारिश के लिये कम से कम दो दिन तक इंतजार करना होगा.

मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक इन इलाकों में 12 जुलाई से पहले बारिश के आसार नहीं हैं. वहीं उत्तरी राजस्थान और दक्षिणी हरियाणा में आज तेज गर्मी का दौर जारी रहा. दिल्ली में सोमवार को पारा 40 डिग्री सेल्सियस के स्तर को पार करने के बाद आज अधिकतम तापमान में एक डिग्री सेल्सियस की कमी जरूर दर्ज की गयी लेकिन बादल छाये रहने के कारण आद्रता का स्तर 78 प्रतिशत तक पहुंचने से दिल्ली और आसपास के इलाकों में उमस भरी गर्मी ने लोगों की परेशानी बढ़ा दी है.

कई दिनों से हो रही लगातार बारिश से मुंबई बेहाल, घरों में घुसा पानी, ट्रेनों पर असर

विभाग ने मानसून की सक्रियता वाले इलाकों की स्थिति में कोई बदलाव नहीं होने का संकेत देते हुये बुधवार को भी तटीय कर्नाटक, केरल, सौराष्ट्र, उत्तराखंड, कोंकण और गोवा में कुछ स्थानों पर तेज बारिश, पश्चिमी मध्य प्रदेश और दक्षिणी गुजरात में चुनिंदा स्थानों पर मूसलाधार बारिश की चेतावनी जारी की है.

मुंबई: भारी बारिश से निर्माणधीन इमारत का हिस्सा गिरा, 7 कारें दबीं, राहत-बचाव कार्य जारी

इसके अलावा विभाग ने अगले 48 घंटों में असम, मेघालय, उड़ीसा, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, पंजाब, पूर्वी उत्तर प्रदेश, जम्मू कश्मीर, सौराष्ट्र और मध्य महाराष्ट्र में कुछ स्थानों पर तेज बारिश की आशंका जतायी है. दिल्ली और आसपास के इलाकों में 12 और 13 जुलाई को छोड़ कर 16 जुलाई तक बादल छाये रहने के बीच मामूली बारिश का अनुमान है.