नोएडा: नोएडा पुलिस ने एक जूनियर रिपोर्टर के कथित यौन और मानसिक शोषण के आरोप में एक निजी टेलीविजन चैनल के पूर्व सीनियर न्यूज प्रोड्यूसर के खिलाफ मामला दर्ज किया है. अधिकारियों ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी. आरोपी ने हालांकि आरोप लगाया कि शिकायत करने वाली महिला और उसका मंगेतर रूपये ऐंठने के लिये ब्लैकमेल कर रहे हैं. Also Read - यौन उत्पीड़न के आरोप में घिरा ये अमेरिकी रैपर, सोशल मीडिया पर दिखा लोगों का गुस्सा

अधिकारियों के मुताबिक उसने भी गाजियाबाद पुलिस से मामले की शिकायत की है. नोएडा पुलिस को दी लिखित शिकायत में महिला ने अपने एक पूर्व सहकर्मी पर दिसंबर 2016 में दुर्व्यवहार का आरोप लगाया है जिसके बाद पुलिस ने एफआईआर दर्ज की. महिला ने कहा कि वह उस वक्त कुछ नहीं कह पाई क्योंकि वह ‘‘नौकरी में नयी थी’’ और बोलने से ‘‘डरती’’ थी. Also Read - #MeToo: रेप के आरोपी आलोकनाथ की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, अब आया ये फैसला

वहीं देश भर में चल रहे #MeToo अभियान को लेकर केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने बृहस्पतिवार को कहा कि सभी राष्ट्रीय एवं क्षेत्रीय दल अपने यहां यौन उत्पीड़न के मामलों को देखने के लिए आंतरिक शिकायत समिति (आईसीसी) का गठन करें. ये अभियान धीरे-धीरे क्रांति का रूप अख्तियार करता जा रहा है. मेनका ने ट्वीट कर कहा, ‘मैंने सभी मान्यताप्राप्त राष्ट्रीय एवं क्षेत्रीय दलों के अध्यक्षों/प्रभारियों से आग्रह किया है कि वे अपने यहां आंतरिक शिकायत समिति का गठन करें क्योंकि कार्यस्थल पर यौन उत्पीड़न विरोधी कानून के तहत यह अनिवार्य है.’ Also Read - #MeToo मूवमेंट पर खुलकर बोलीं तनुश्री दत्ता, 'मीडिया फालतू में मुझे हीरो बना रहा'

हाल ही में ‘मी टू’ अभियान के तहत विभिन्न क्षेत्रों में प्रतिष्ठित कई महिलाओं ने अपने साथ यौन उत्पीड़न की घटनाओं को साझा किया. इसी अभियान के तहत कई फिल्मी हस्तियों और पूर्व केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर के खिलाफ भी आरोप लगे. अकबर ने कल विदेश राज्य मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया.