जयपुर: उत्तर पश्चिम रेलवे ने 24 मई तक 98 श्रमिक स्पेशल ट्रेनों से विभिन्न राज्यों के एक लाख 38 हजार से अधिक प्रवासियों को उनके गंतव्य तक पहुंचाया. उत्तर पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी के अनुसार आने वाले दिनों में भी आवश्यकतानुसार व मांग के अनुरूप अन्य राज्यों के लिये भी श्रमिक स्पेशल रेलसेवाओं के संचालन की योजना के लिये रेलवे तैयार है.Also Read - MNS chief राज ठाकरे, मां और बहन समेत कोरोना पॉजिटिव निकले, लीलावती अस्‍पताल में भर्ती

उन्होंने बताया कि उत्तर पश्चिम रेलवे ने अब तक 98 श्रमिक स्पेशल ट्रेन बिहार, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, झारखंड, पश्चिम बंगाल व आन्ध्र प्रदेश सहित अन्य राज्यों के श्रमिकों के लिये चलाईं. इसी क्रम में सोमवार को जयपुर-गोरखपुर, जोधपुर-पूर्णिया, बीकानेर-पूर्णिया, जयपुर-पूर्णिया, हनुमानगढ-पूर्णिया, सीकर-बेगूसराय, उदयपुर-गोरखपुर के लिये सात श्रमिक स्पेशल ट्रेन चलाई जा रही हैं. Also Read - Chhath Puja 2021: दिल्ली में छठ पूजा पर से हट सकती है रोक! कोरोना पर चर्चा के लिए 27 अक्टूबर को बैठक करेगी DDMA

उन्होंने बताया कि इसके साथ ही उत्तर पश्चिम रेलवे द्वारा संचालित 37 श्रमिक स्पेशल रेलसेवाएं अन्य राज्यों से आईं जिनमें 43 हजार से अधिक प्रवासी बाहर रहने वाले राज्यों से आये. इनमें महाराष्ट्र, कर्नाटक, तेलंगाना, आन्ध्र प्रदेश, गुजरात, झारखंड, केरल, तमिलनाडू व पश्चिम बंगाल से आई श्रमिक स्पेशल ट्रेन शामिल हैं. Also Read - Coronavirus cases In India: एक दिन में 15,786 लोग हुए संक्रमित, 231 लोगों की हुई मौत

उन्होंने बताया कि दो श्रमिक स्पेशल रेलसेवाएं सिंधुदुर्ग (महाराष्ट्र) से जयपुर व काचीगुडा (तेलंगाना) से जोधपुर सोमवार को अपने गंतव्य स्थानों पर पहुंचेंगी. इसके अतिरिक्त आने वाले दिनों में भी आवश्यकतानुसार और मांग के अनुरूप अन्य राज्यों के लिये भी श्रमिक स्पेशल ट्रेन के संचालन की योजना के लिये रेलवे राज्य सरकारों के साथ समन्वय कार्य कर रहा है.

(इनपुट भाषा)