जयपुर: उत्तर पश्चिम रेलवे ने 24 मई तक 98 श्रमिक स्पेशल ट्रेनों से विभिन्न राज्यों के एक लाख 38 हजार से अधिक प्रवासियों को उनके गंतव्य तक पहुंचाया. उत्तर पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी के अनुसार आने वाले दिनों में भी आवश्यकतानुसार व मांग के अनुरूप अन्य राज्यों के लिये भी श्रमिक स्पेशल रेलसेवाओं के संचालन की योजना के लिये रेलवे तैयार है. Also Read - इशांत शर्मा ने कहा- 2013 के बाद महेंद्र सिंह धोनी को अच्छे से समझ पाया था

उन्होंने बताया कि उत्तर पश्चिम रेलवे ने अब तक 98 श्रमिक स्पेशल ट्रेन बिहार, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, झारखंड, पश्चिम बंगाल व आन्ध्र प्रदेश सहित अन्य राज्यों के श्रमिकों के लिये चलाईं. इसी क्रम में सोमवार को जयपुर-गोरखपुर, जोधपुर-पूर्णिया, बीकानेर-पूर्णिया, जयपुर-पूर्णिया, हनुमानगढ-पूर्णिया, सीकर-बेगूसराय, उदयपुर-गोरखपुर के लिये सात श्रमिक स्पेशल ट्रेन चलाई जा रही हैं. Also Read - देश में कोरोना के करीब 21 हजार नए केस, आंकड़ा 6.25 लाख के पार, 18 हजार से ज्‍यादा मौतें

उन्होंने बताया कि इसके साथ ही उत्तर पश्चिम रेलवे द्वारा संचालित 37 श्रमिक स्पेशल रेलसेवाएं अन्य राज्यों से आईं जिनमें 43 हजार से अधिक प्रवासी बाहर रहने वाले राज्यों से आये. इनमें महाराष्ट्र, कर्नाटक, तेलंगाना, आन्ध्र प्रदेश, गुजरात, झारखंड, केरल, तमिलनाडू व पश्चिम बंगाल से आई श्रमिक स्पेशल ट्रेन शामिल हैं. Also Read - इन चीजों में पाई जाती है कोरोना वायरस से लड़ने की औषधीय क्षमता, जानिए पूरी डिटेल

उन्होंने बताया कि दो श्रमिक स्पेशल रेलसेवाएं सिंधुदुर्ग (महाराष्ट्र) से जयपुर व काचीगुडा (तेलंगाना) से जोधपुर सोमवार को अपने गंतव्य स्थानों पर पहुंचेंगी. इसके अतिरिक्त आने वाले दिनों में भी आवश्यकतानुसार और मांग के अनुरूप अन्य राज्यों के लिये भी श्रमिक स्पेशल ट्रेन के संचालन की योजना के लिये रेलवे राज्य सरकारों के साथ समन्वय कार्य कर रहा है.

(इनपुट भाषा)