नई दिल्ली: राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) के अद्यतन और 2021 के जनगणना के पहले चरण का कार्य तय समय-सारिणी पर नहीं शुरू होगा क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में कोरोना वायरस से निपटने के लिए 21 दिन की बंद की घोषणा की है. अधिकारियों ने मंगलवार को यह जानकारी दी. पहले यह दोनों कार्य एक अप्रैल से 30 सिंतबर के बीच में होने थे. Also Read - कोरोना के कारण मजदूरों का पलायन: कोर्ट ने तलब की रिपोर्ट, डर दहशत को बताया वायरस से भी बड़ी समस्या

गृह मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि मौजूदा स्थिति को देखते हुए एनपीआर और जनगणना का कार्य अगले आदेश तक के लिए रोक दिया गया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए देश में मंगलवार से 21 दिन बंद की घोषणा की है. Also Read - Covid-19: निजामुद्दीन के मरकज में सैंकड़ों कोरोना संदिग्ध, दिल्ली सरकार ने दिया मौलाना पर FIR दर्ज करने का आदेश

बता दें कि स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक मंगलवार को देश में कोरोना वायरस से मौत के मामले 10 हो गये. राजधानी में मौत का दूसरा मामला सामने आया है. देश में कोविड-19 के मरीजों की संख्या बढ़कर 519 हो गई. पश्चिम बंगाल और हिमाचल प्रदेश में एक-एक व्यक्ति की मौत सोमवार को कोरोना वायरस से हुई जबकि पहले इस महामारी से मौत के सात मामले महाराष्ट्र (दो), बिहार, कर्नाटक, दिल्ली, गुजरात और पंजाब में दर्ज किये गये थे. Also Read - COVID-19 से दुनिया में मौतों का आंकड़ा 34,610, संक्रमण के 7 लाख 27 हजार से ज्‍यादा केस

मंत्रालय की ओर से मंगलवार रात 8:15 बजे अद्यतन किए गए आंकड़ों के मुताबिक इस समय मरीजों की संख्या 469 है जबकि 40 लोग ठीक हो चुके हैं जिन्हें अस्पताल से छुट्टी दी जा चुकी है. मंत्रालय के मुताबिक संक्रमितों में 43 विदेशी हैं और अब तक 10 मरीजों की मौत कोरोना वायरस की वजह से हुई है.