ISRO Scientist Tapan Mishra Claims: भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संस्थान (ISRO) के सीनियर एडवाइजर और शीर्ष वैज्ञानिक डॉक्टर तपन मिश्रा (Dr. Tapan Mishra) ने बड़ा खुलासा किया है और उन्होंने आरोप लगाया है कि उन्हें तीन साल में तीन बार जान से मारने की कोशिश की गई थी. इसके लिए उन्हें डोसे की चटनी में जहर डालकर दिया गया था, उनके घर में सांप छोड़े गए थे. उन्होंने दावा किया कि उन्हें सांप से भी मारने की कोशिश की गई थी.Also Read - नाबालिग लड़की ने परिवार के चार लोगों को जहर देकर मार डाला, वजह जानकर हैरान रह जाएंगे आप

तपन मिश्रा (Tapan Misra) ने दावा किया है कि उन्हें साल 2017 में जहर देकर मारने की कोशिश की गई थी. तपन मिश्रा ने आरोप लगाया कि उन्हें 23 मई, 2017 को बेंगलुरु में जहर दिया गया था. Also Read - Rajasthan: पिता ने 4 बेटियों को पहले जहर खिलाया, पानी के टैंक में डुबोकर मारा, फिर सुसाइड की कोशिश की

तपन मिश्रा ने फेसबुक पोस्ट के जरिए 5 जनवरी को इसका खुलासा किया है कि बाहरी लोग नहीं चाहते कि ISRO, इसके वैज्ञानिक आगे बढ़ें और कम लागत में टिकाऊ सिस्टम बनाएं. तपन मिश्रा ने इसे सरकारी तंत्र की मदद से किया गया अंतरराष्ट्रीय जासूसी हमला बताया है. उन्होंने डॉक्टर विक्रम साराभाई की रहस्यमय मौत का हवाला देकर केंद्र सरकार से इसकी जांच कराने की मांग की है. Also Read - Sushant Singh Rajput Case Update: रिया चक्रवर्ती से लगातार पूछताछ कर रही है CBI, सच का होगा खुलासा!

उन्होंने बताया कि 23 मई 2017 को उन्हें जानलेवा आर्सेनिक ट्राइऑक्साइड (Arsenic Trioxide) दिया गया था. उन्होंने कहा कि जो जहर उन्हें दिया गया था, वो एक इनऑर्गेनिक ऑर्सेनिक था और इंसान को मारने के लिए काफी है. तपन मिश्रा ने कहा कि वो भाग्यशाली रहे कि उनकी मौत नहीं हुई, क्योंकि इस जहर के लेने के बाद कोई नहीं बचता. इसके लिए उन्हें लगातार दो साल इलाज कराना पड़ा था.

डॉक्टर तपन मिश्रा फिलहाल इसरो में वरिष्ठ सलाहकार के तौर पर काम कर रहे हैं. 31 जनवरी को वह रिटायर हो रहे हैं. उन्होंने फेसबुक पर ‘लॉन्ग केप्ट सीक्रेट’ नाम से एक पोस्ट में यह दावा किया है कि जुलाई, 2017 में गृह मामलों के सुरक्षाकर्मियों ने उनसे मुलाकात कर आर्सेनिक जहर दिये जाने के प्रति उन्हें सावधान किया था. उन्होंने कहा कि मैं चाहता हूं कि लोगों को इस बारे में पता चले, ताकि अगर मैं मर जाऊं, तो सबको पता हो कि मेरे साथ क्या-क्या हुआ था.