नई दिल्ली: दिल्ली में आम आदमी पार्टी (आप) सरकार ने चार नवंबर से शुरू होने वाली सम-विषम (Odd-Even) योजना के दौरान दिल्ली परिवहन निगम (डीटीसी) को 2,000 सीएनजी बसों को किराए पर लेने का निर्देश दिया है. एक आधिकारिक बयान में यह जानकारी दी गई.Also Read - Mukhyamantri Tirth Yatra Yojana: दिल्ली सरकार ने मुख्यमंत्री तीर्थयात्रा योजना में करतारपुर साहिब को शामिल किया

Also Read - Delhi News: तीन दिसंबर से शुरू हो रही है मुख्यमंत्री तीर्थ योजना, जानिए क्या हैं शर्तें, कैसे करें अप्लाई

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की अध्यक्षता में गुरुवार को हुई मंत्रिमंडल की बैठक में 2,000 अतिरिक्त बसों को चलाने की मंजूरी दी गई. इस कदम से डीटीसी और दिल्ली एकीकृत बहुस्तरीय परिवहन प्रणाली (डीआईएमटीएस) द्वारा चलाई जाने वाली सार्वजनिक परिवहन बसों की संख्या बढ़कर 5,500 हो जाएगी. Also Read - UP Polls 2022: क्या यूपी में SP-AAP साथ मिलकर लड़ेंगे चुनाव? अखिलेश यादव की संजय सिंह से मुलाकात से अटकलें

दिल्ली में इस दिन से लागू होगा ऑड-ईवन, तोड़ने पर इतने हजार का जुर्माना, जानिए अहम बातें

दिल्ली सरकार ने एक बयान में कहा, ‘मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की अध्यक्षता में दिल्ली मंत्रिमंडल की गुरुवार सुबह हुई बैठक में परिवहन विभाग के प्रस्ताव को मंजूरी दी गई, जिसमें कहा गया है कि सम-विषम योजना के दौरान सीएनजी से चलने वाली अतिरिक्त बसें चलाई जाएं, और साथ ही इन बसों के लिए दरों के निर्धारण को भी मंजूरी दी.’ ये दरें मानक आकार की बसों के लिए 49.42 रुपये प्रति किलोमीटर और मध्यम आकार की बसों के लिए 32.54 रुपये प्रति किलोमीटर होंगी. दिल्ली में चार नवंबर से 15 नवंबर के बीच सम-विषम योजना लागू होगी.

Odd-Even Traffic Policy In Delhi: इस दिन से दिल्‍ली में ऑड-ईवन होगा शुरू, ये हैं 10 नियम, तोड़ने पर 4 हजार जुर्माना…

आज प्रेस कांफ्रेंस में सीएम केजरीवाल ने कहा कि ऑड-ईवन स्कीम का उल्लंघन करने वालों पर 4000 रुपये का जुर्माना लगाया जाएगा. उन्होंने यह भी कहा कि उनकी सरकार के सभी मंत्री इस स्कीम के दायरे में आएंगे. हालांकि सीएम ने कहा कि केंद्र सरकार के मंत्रियों को इस स्कीम में छूट दी गई है. स्कीम में महिलाओं को, वाहन में मौजूद स्कूली बच्चों और दिव्यांगों को भी छूट दी गई है.

(इनपुट-भाषा)