नई दिल्ली. ओडिशा सीएम नवीन पटनायक की बहन और प्रसिद्ध लेखिका गीता मेहता ने ”पद्म श्री” सम्मान स्वीकार करने से इनकार कर दिया है. बता दें कि शुक्रवार की शाम गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर ही उनके नाम का ऐलान किया गया था. जिस समय पुरस्कार की घोषणा की गई, गीता मेहता न्यूयॉर्क में थी.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, गीता मेहता ने कहा कि आने वाले कुछ महीने में लोकसभा के चुनाव होने हैं. ऐसे समय इस सम्मान को दिए जाने से जनता के बीच गलत संदेश जाएगा. उन्होंने कहा कि यह कदम सरकार के साथ-साथ उनके लिए भी शर्मिंदगी की सबब बन सकता है.

सम्मान पाना गर्व की बात
उन्होंने कहा, ”पद्म श्री” जैसा सम्मान पाना गर्व की बात है. मैं भी सम्मानित महसूस कर रही हैं. अच्छा लगा कि सरकार ने मुझे इस पुरस्कार के लायक समझा. इसे न ले पाने का मुझे अफसोस है. उन्होंने कहा कि पुरस्कार की टाइमिंग को लेकर मैं परेशान हूं कि इससे गलत संदेश जाएगा. मुजे इसका बहुत अफसोस रहेगा.