कोरापुट (ओडिशा). सेल्फी को लेकर लोग क्रेजी हो गए हैं. सेल्फी शौक में शुमार हो चला है. आज के इस दौर में मोबाइल सेल्फी आम जिंदगी का हिस्सा बन गया है. इस शौक का असर इतना हावी है कि लोग दस घंटे अपनी दिनचर्या का सेल्फी और सोशल मीडिया पर जाया कर रहे हैं. लेकिन इसी सेल्फी के चक्कर में कई ऐसे लोग भी हैं जिन्हें अपनी जान तक गंवानी पड़ गई. एक ऐसा ही दर्दनाक मामला एक बार फिर से चर्चा का विषय बना हुआ है. Also Read - Coronavirus in Odisha: ओडिशा में 494 नए कोविड19 पॉजिटिव मरीज, संक्रमितों की संख्या 15 हजार के पार

Also Read - Liquor price: इस राज्य सरकार ने शराब के दाम में की भारी कटौती, 50 % तक हटाई गई कोरोना फीस, अब इतने में मिलेगी एक बोतल

मामला ओडिशा के रायगढ़ा जिले का है. जहां पर सेल्फी लेते समय 30 वर्षीय एक महिला और उसका पांच वर्षीय बेटा नदी में डूब गए. पुलिस ने बताया कि हादसा कल शाम रायगढ़ा के बाहरी इलाके में नागावली नदी में हुआ. रायगढ़ा पुलिस थाने के प्रभारी रवि पात्रा ने बताया कि महिला अपने परिवार के साथ नागावली नदी के पुल पर गई थी. Also Read - VIDEO: गैंगस्टर विकास दुबे की गिरफ्तारी पर मां बोलीं- इस समय वह भाजपा में नहीं, सपा में है

IRCTC ने जगन्नाथ मंदिर की गलत तस्वीर लगाने को लेकर माफी मांगी

IRCTC ने जगन्नाथ मंदिर की गलत तस्वीर लगाने को लेकर माफी मांगी

अधिकारी ने बताया कि पुल पर कुछ फोटो लेने के बाद महिला अपने बेटे और बेटी के साथ पुल से उतर एक चट्टान पर बैठ गई और सेल्फी लेने लगी. उन्होंने बताया कि चट्टान पर सेल्फी लेते समय तीनों फिसलकर नदी में गिर गए. स्थानीय लोगों ने लड़की को बचा लिया लेकिन महिला डूब गई.

पात्रा ने बताया कि लड़का लापता हो गया था. उसका शव आज बरामद हुआ. उन्होंने बताया कि मृतकों की पहचान 30 वर्षीय जे शांति और पांच वर्षीय जे अकील के रूप में हुई है. ( भाषा इनपुट )