नई दिल्ली: हाल ही में मुस्लिम देशों के संगठन ओआईसी ने भारत में अल्पसंख्यकों के अधिकारों को लेकर चिंता जताई थी. हालांकि अब ओआईसी के बयान पर केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने मंगलवार को कहा कि भारत मुसलमानों के लिए स्वर्ग है और जो लोग देश का माहौल खराब करने की कोशिश कर रहे हैं वो मुस्लिम समुदाय के दोस्त नहीं हो सकते. उन्होंने यह भी कहा कि देश में अल्पसंख्यकों के धार्मिक, सामाजिक और आर्थिक अधिकार पूरी तरह सुरक्षित हैं. Also Read - भारत-चीन के बीच सीमा विवाद पर यूएस मध्‍यस्‍थता करने को तैयार है: डोनाल्‍ड ट्रंप

नकवी ने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में सभी वर्गों का विकास हो रहा है और इसमें किसी के साथ भेदभाव नहीं हो रहा है. मंत्री ने यह टिप्पणी उस वक्त की है जब ओआईसी ने गत रविवार को भारत से अनुरोध किया था कि वह अल्पसंख्यक मुस्लिम समुदाय के अधिकारों की रक्षा करने और देश में ‘इस्लामोफोबिया’ (इस्लाम धर्म के प्रति पूर्वाग्रह) की घटनाओं को रोकने के लिए तुरंत कदम उठाए. Also Read - चीन से तनाव पर कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद का बयान- 'नरेंद्र मोदी के भारत को कोई आंख नहीं दिखा सकता'

नकवी ने संवाददाताओं से कहा, ‘एक बात साफ है, धर्मनिरपेक्षता और सद्भाव भारतवासियों के लिए राजनीतिक फैशन नहीं, बल्कि जुनून है. यह हमारे देश की ताकत है. इसी ताकत ने देश के अल्पसंख्यकों सहित सभी लोगों के धार्मिक, सामाजिक अधिकार सुरक्षित हैं.’ मंत्री ने कहा कि भारत मुसलमानों और सभी अल्पसंख्यक समुदायों के लिए स्वर्ग है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में तुष्टिकरण के बिना सशक्तिकरण की भावना के साथ सबको विकास में जोड़ा जा रहा है. Also Read - भारत से LAC पर तनाव के बीच चीनी विदेश मंत्रालय का आया ये बयान

(इनपुट भाषा)