नई दिल्ली: कोरोना वायरस के प्रसार के मद्देनजर एप आधारित टैक्सी सर्विस ओला ने दिल्ली सरकार के साथ भागीदारी की है. ओला ने दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य विभाग के साथ भागीदारी दी है. इसके तहत ओला मरीजों को मुफ्त में अस्पताल पहुंचाने के लिए कैब सेवा उपलब्ध कराएगी. Also Read - राहत की बात: COVID-19 वैक्‍सीन Sputnik V की दूसरी खेप कल आएगी भारत

कंपनी ने शनिवार को बयान में कहा कि यदि किसी नागरिक को गैर-कोविड चिकित्सकीय जरूरत के लिए परिवहन की जरूरत है तो वह 102 नंबर पर डायल कर सकता है. स्वास्थ्य मंत्रालय की टीम मरीज के लिए एक कैब आवंटित करेगी. मरीज को मुफ्त में अस्पताल पहुंचाया जाएगा. Also Read - 2 से 18 साल के बच्‍चों पर होगा COVAXIN का ट्रायल, DCGI ने दी मंजूरी

कंपनी ने कहा कि वह ऐसे मरीजों जिन्हें कोविड-19 संक्रमण नहीं है, को परिवहन सुविधा उपलब्ध करा रही है. इनमें जांच, डायलिसिस, कीमोथेरेपी के अलावा चोट लगने की वजह से घायल मरीज शामिल हैं. Also Read - गाजीपुर: गंगा नदी में बहते शवों से मचा कोहराम, कोरोना संकट के बीच जिलाधिकारी ने दिए जांच के आदेश

ओला ने कहा कि वह मरीजों को स्वच्छ और सुरक्षित यात्रा अनुभव उपलब्ध करा रही है. ओला कैब के चालकों के पास सभी जरूरी सुरक्षा उपकरण मसलन मास्क, सैनिटाइजर आदि उपलब्ध है. इस तरह की सेवाओं का परिचालन करने वाले विशेष रूप से प्रशिक्षित चालकों द्वारा किया जा रहा है.

(इनपुट भाषा)