नई दिल्ली: बैंक अकाउंट खोलने के लिए अब बुजुर्ग, बीमार और घायल लोग आधार के अलावा अन्य पहचान पत्र का उपयोग कर सकते हैं. सरकार ने  बुधवार को इस संबंध में अपनी मंजूरी प्रदान कर दी है. गजट अधिसूचना में कहा गया है कि धनशोधन रोकथाम नियमों में संशोधन कर पहचान स्थापित करने के वैकल्पिक तरीकों को मंजूरी दे दी गई है. यह वैकल्पिक तरीकों की छूट उन लोगों को प्राप्त होगी जो अपनी बायोमीट्रिक पहचान स्थापित करने में परेशानियों का सामना कर रहे हैं. Also Read - UIDAI/Aadhaar Card Address Update New Rules: UIDAI ने किरायदारों को दी बड़ी सहूलियत, अब आधार कार्ड में बदलवा सकेंगे एड्रेस

यह संशोधन घायल होने, बीमार होने या उम्र की वजह से बायोमीट्रिक पहचान स्थापित करने में असमर्थ लोगों को अन्य तरीके से पहचान जाहिर करने की अनुमति देता है. इस संबंध में भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अजय भूषण पांडे ने पीटीआई- भाषा से कहा कि इस नियम से बुजुर्ग , घायल और बीमार लोगों को मदद मिलेगी. जिनको बैंकिंग एवं अन्य वित्तीय सेवाओं का लाभ लेने के लिए बॉयोमेट्रिक ऑथेंटिकेशन में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. Also Read - मोबाइल नंबर बदल गया, इस प्रक्रिया से फोन नंबर को करें आधार से लिंक, बस भरना होगा एक फॉर्म

पांडे ने आगे कहा कि इससे यह भी सुनिश्चित होगा कि बायोमेट्रिक प्रमाणीकरण की समस्याओं के कारण किसी भी खाताधारक को बैंकिंग सेवाओं से वंचित नहीं होना पड़ेगा. Also Read - Aadhar Card से अपने नए मोबाइल नंबर को ऐसे करें लिंक, खर्च होंगे सिर्फ 25 रुपये

(इनपुट: पीटीआई)