गाजियाबाद. यहां रहने वाले एक 77 साल के बुजुर्ग की डासना जेल में मौत हो गई. उसके ऊपर क्लास 3 में पढ़ने वाली बच्ची के साथ छेड़खानी करने का आरोप लगा था. बच्ची उसकी की बिल्डिंग में दूसरे फ्लैट में रहती थी और आरोप है कि लिफ्ट में ही बुजुर्ग ने उसके साथ छेड़छाड़ की. वह पिछले 25 दिसंबर से जेल में बंद था.

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, वासु भार्गवा अपने परिवार के साथ इंदिरापुरम के अपार्टमेंट में तीसरी मंजिल पर रहते हैं. एफआईआर के मुताबिक, छेड़खानी की घटना बीते 24 दिसंबर की दोपहर में हुई. पीड़िता उस समय अपनी एक दोस्त के साथ खेलने के बाद एक फ्लैट में जा रही थी. इसी दौरान लिफ्ट में भार्गव ने उसके साथ छेड़छाड़ की. पीड़िता ने अपनी दादी को पूरे मामले की जानकारी दी, जिसके बाद परिवार वालों ने थाने में शिकायत दर्ज कराई.

25 दिसंबर से जेल में बंद थे
भार्गव 25 दिसंबर से जेल में बंद थे. गुरुवार की दोपहर अचानक उन्हें सांस लेने में तकलीफ होने लगी और उनका स्वास्थ्य गिरने लगा. इसके बाद लोग उन्हें एमएमजी अस्पताल लेकर पहुंचे जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. डॉक्टरों के मुताबिक, जब वह अस्पताल पहुंचे तो उन्हें इमरजेंसी वार्ड में भर्ती कराया गया, लेकिन तबतक उनका पल्स चलना बंद हो चुका था. हालांकि, पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही मौत के कारणों की जानकारी हो पाएगी.

भार्गव के लड़के ने ये कहा
भार्गव के लड़के विशाल के मुताबिक, पांच साल पहले उनका एक एक्सिडेंट हो गया था. उसके बाद से उनकी मानसिक स्थिति बेहतर नहीं थी. वह चीजों को भूलने भी लगे थे. लिफ्ट के अंदर भी वह जिस फ्लोर पर जाना चाहते थे उसका बटन सही तरीके से दबा नहीं पा रहे थे.