नई दिल्ली: हमें अक्सर पुलिस द्वारा चोर और बदमाश को पकड़े जाने वाली खबरे सुनने को मिलती हैं, लेकिन नोएडा पुलिस अपने खास काम के लिए चर्चा में है. नोएडा पुलिस ने एक ऐसे बुजुर्ग की मदद की जो इलाज के लिए शहर आया था, लेकिन वह रुपयों से भरा बैग बस में ही भूल गया था.

Video: गणेश चतुर्थी पर मुकेश अंबानी के घर पूजा के लिए सचिन-युवराज सहित जुटीं कई हस्तियां

दरअसल, मंगलवार का यह बुजुर्ग फर्रुखाबाद से ग्रेटर नोएडा इलाज के लिए आया था. लकवे की बीमारी से ग्रस्त यह व्यक्ति बस पकड़ कर डाक्टर के पास जा रहा था. पुलिस ने जानकारी दी कि यह बुजुर्ग परी चौक पर बस से उतरा. इसके बाद बुजुर्ग को ध्यान आया कि वह अपना बैग बस में ही भूल गया जिसमें उसके रुपये, कपड़े और जरूरी सामान मौजूद थे, लेकिन तब तक बस जा चुकी थी.

पुलिस ने बताया कि अपने बैग का ध्यान आते ही बुजुर्ग काफी घबरा गया. तभी नॉलेज पार्क थाने की एक पुलिस टीम की नजर उस पर पड़ी. पुलिस उसे थाने लेकर गई. नॉलेज पार्क थाने के प्रभारी अरविंद पाठक ने कहा कि उसे कुछ भी ठीक प्रकार से ध्यान नहीं आ रहा था और अपने सामान को लेकर काफी परेशान था. वह बार-बार बस इस बात को रट रहा था कि अब इलाज कैसे कराएगा. बाद में उसने बताया कि वह फर्रुखाबाद से यहां इलाज के लिए आया है.

उन्होंने कहा कि बुजुर्ग की दशा देखकर करीब 50 पुलिसकर्मियों ने स्वेच्छा से 3880 रुपए एकत्र किए और उन्हें दे दिए. पाठक ने कहा , ‘‘थाने में हमने उसे तसल्ली देने का प्रयास किया और उसे नाश्ता कराया. वह एक घंटे बाद दादरी के लिए रवाना हुआ.’’ पुलिस तुरंत बुजुर्ग का वही बैग तो वापस नहीं करा पाई, लेकिन बुजुर्ग की मदद के लिए पुलिस ने जो किया, उसकी लोग तारीफ़ कर रहे हैं.