मशहूर रम ‘ओल्ड मंक’ को कामयाब बनाने वाले पद्मश्री ब्रिगेडियर (रिटायर्ड) कपिल मोहन का 88 वर्ष की उम्र में निधन हो गया. बताया जा रहा है कि वे लंबे समय से बीमार चल रहे थे. खबरों के मुताबिक, मोहन को उनके गाजियाबाद वाले घर में हर्ट अटैक आया. मोहन मीकिन लिमिटेड के चेयरमैन थे. यह कंपनी ही ओल्ड मंक के साथ-साथ बाकी कुछ और ड्रिंक्स बनाने का काम करती है. 1954 में लॉन्च हुई ओल्ड मंक लंबे समय तक दुनिया में सबसे ज्यादा बिकने वाली डार्क रम रही.
बता दें कि व्‍यवसाय के क्षेत्र में उल्‍लेखनीय काम करने के लिए कपिल को वर्ष 2010 में पद्मश्री से सम्‍मानित किया गया था. ओल्ड मंक को मिली सफलता के बाद मोहन ने बाकी बिजनस में भी अपना हाथ आजमाया था. उन्होंने  फ्रूट जूस प्रॉडक्ट्स, कोल्ड स्टोरेज जैसे व्यवसाय में अपनी किस्मत आजमाई.
‘ओल्‍ड मंक’ को 19 दिसंबर, 1954 को लांच किया गया था. कपिल मोहन द्वारा कमान संभालने के बाद ओल्‍ड मंक रम भारत ही नहीं बल्कि दुनिया भर में फेमस हो गया था. विभिन्‍न क्षेत्रों में सक्रिय मोहन मीकिन लिमिटेड का मौजूदा टर्नओवर 400 करोड़ रुपये से भी ज्‍यादा है.
साल 2015 में सोशल मीडिया पर ऐसी अफवाह उड़ी थी कि कंपनी ओल्ड मंक को बंद करने वाली है. हालांकि, मोहन ने खुद इस खबर का खंडन किया. वहीं, कपिल मोहन के निधन पर कई लोगों ने शोक जताया है.