Omicron in India: भारत में भी अब कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन तेजी से अपने पैर पसार रहा है. देश में अब तक इस नए वेरिएंट के 21 मरीज सामने आ चुके हैं. पांच राज्यों-राजस्थान में 9, महाराष्ट्र में 8, कर्नाटक में 2, दिल्ली और गुजरात में 1-1 मरीज इस नए वेरिएंट के मिले है. इन मरीजों के संपर्क में आए बाकी लोगों को भी ट्रेस किया जा रहा है. इस वेरिएंट के लिए चिंता की बात इसलिए भी है क्योंकि जो भी मरीज  इनमें से ज्यादातर को वैक्सीन लग चुकी है. भारत में 2 दिसंबर को कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन का पहला मामला सामने आया था और 6 दिसंबर तक इस वेरिएंट के 21 मरीज मिल चुके हैं.Also Read - Omicron In India: कोरोना-ओमिक्रॉन से जूझ रहा है देश, कर्नाटक में मिली ये चौंकाने वाली जानकारी, जानिए

दिल्ली में हाई अलर्ट पर स्वास्थ्य विभाग Also Read - Gujarat Night Curfew News: गुजरात के 27 शहरों में Night Curfew चार फरवरी तक बढ़ाया गया, ये रहेंगी पाबंदियां

दिल्ली में ओमिक्रॉन वेरिएंट का पहला मामला रविवार को सामने आया है, तंजानिया से आया एक शख्स ओमिक्रॉन पॉजिटिव पाया गया है. उसके ओमिक्रॉन पॉजिटिव पाए जाने की खबर मिलने के बाद हलचल मच गई है. स्वास्थ्य विभाग समेत दिल्ली सरकार हाई अलर्ट पर है और सरकार ने  जरूरत के हिसाब से सुविधाएं बढ़ाने की बात भी  कही है. हालांकि मरीज की हालत स्थिर है और उसका इलाज एलएनजेपी अस्पताल में हो रहा है. Also Read - एयरपोर्ट अफसरों ने हेलीकॉप्‍टर की उड़ान में देरी की वजह बताई तो अखिलेश बोले- मुझे कैसे पता होगा कि क्या कारण था

जीनोम सिक्वेंसिंग से पता चला, ये लक्षण आए हैं सामने

अस्पताल प्रशासन का कहना है कि मरीज की उम्र 33 साल है और वह तंजानिया से दिल्ली आया था. उसे 2 दिसंबर को दिल्ली एयरपोर्ट से एलएनजेपी अस्पताल भेजा गया था. एयरपोर्ट पर जांच में मरीज की कोविड रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी. एलएनजेपी में पहुंचने के बाद इसकी जीनोम सीक्वेंसिंग कराई गई, जिसमें उसके ओमिक्रॉन से संक्रमित होने का पता चला है.

अस्पताल में भर्ती मरीज में पता चले ओमिक्रॉन के लक्षणों के बारे में एक वरिष्ठ चिकित्सक ने बताया कि मरीज को केवल सिर और बदन में दर्द है. इसके अलावा उसे स्वास्थ्य संबंधी दूसरी कोई दिक्कत नहीं है.

ये होते हैं ओमिक्रॉन से संक्रमण के लक्षण

ओमिक्रॉन से संक्रमित पाए गए लोगों को बदन दर्द, तेज सिरदर्द और थकान की शिकायत होती है.

ओमिक्रॉन से संक्रमित किसी मरीज में गंध और स्वाद चले जाने, नाक बंद होने या बुखार की शिकायत नहीं देखी गई है.

डेल्टा वेरिएंट के मुकाबले ओमिक्रॉन के इसके लक्षण अलग और हल्के हैं.

ओमिक्रॉन वेरिएंट RT-PCR जांच से पकड़ में आता है.

अभी तक किसी मरीज को ऑक्सीजन या आईसीयू की जरूरत नहीं हुई है.