नई दिल्ली: कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने रविवार को कहा कि जेएनयू के छात्रावासों में नकाबपोश लोगों के घुसने और छात्रों पर हमले करने का सीधा प्रसारण टीवी पर देखना भयावह था और ऐसा केवल सरकार की मदद से ही हो सकता है. जेएनयू परिसर में रविवार को विश्वविद्यालय छात्र संघ और एबीवीपी के सदस्यों के बीच झड़प हो गयी. Also Read - Breaking: दिल्ली हिंसा केस में जेल गए उमर खालिद को मिली जमानत, कोर्ट ने पुलिस के लिए कही ये बात

वाम नियंत्रण वाले छात्रसंघ और आरएसएस से संबद्ध छात्र संगठन एबीवीपी ने हमले के लिए एक-दूसरे को जिम्मेदार ठहराया. पूर्व वित्त मंत्री ने इस संबंध में ट्वीट किया, ‘‘हम टीवी पर जो सीधा प्रसारण देख रहे हैं, वह स्तब्ध करने वाला और भयावह है. नकाबपोश लोग जेएनयू के छात्रावासों में घुसे और छात्रों पर हमले करने लगे. पुलिस क्या कर रही है? पुलिस आयुक्त कहां हैं?’’ Also Read - Farmers Protest के बीच सरकार ने Twitter से कहा- 1178 पाकिस्‍तानी-खालिस्‍तानी अकाउंट्स हटाए: सूत्र

उन्होंने लिखा, ‘‘अगर लाइव टीवी पर यह हो रहा है तो इसे करने के लिए छूट दी गयी है और यह केवल सरकार के समर्थन से हो सकता है. भरोसा नहीं होता.’’

(इनपुट भाषा)