कासगंज| उत्तर प्रदेश के कासगंज जिले में शुक्रवार गणतंत्र दिवस पर विश्व हिंदू परिषद (विहिप) और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के कार्यकर्ताओं द्वारा निकाली गई मोटरसाइकिल रैली पर पथराव से तनाव व्याप्त हो गया. इसके बाद हुई आगजनी और फायरिंग में एक युवक की मौत हो गई तथा कई अन्य घायल हो गए.  अपर पुलिस महानिदेशक (एडीजी) -कानून व्यवस्था आनंद कुमार ने बताया कि कासगंज नगर कोतवाली क्षेत्र के मथुरा-बरेली राजमार्ग के बिलराम गेट चौराहे पर विहिप और एबीवीपी के कार्यकर्ताओं पर रैली निकालते समय एक वर्ग के लोगों ने पथराव किया. Also Read - UP के Kasganj में बिकरू कांड जैसे हमले के बाद पुलिस ने आरोपी को एनकाउंटर में मार गिराया

एडीजी ने कहा कि कई लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया है. जिन लोगों ने भी अराजकता फैलाई है, उन्हें पहचानकर उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. स्थानीय प्रशासन ने हालात पर काबू पा लिया है. Also Read - राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने राम मंदिर के लिए दिए 5 लाख रुपए, दान देने वाले पहले भारतीय बने, VHP बोली...

नारेबाजी को लेकर हुई तकरार में दोनों तरफ से पथराव हुआ. इसके बाद हुई आगजनी और फायरिंग में चंदन नामक युवक की गोली लगने से मौत हो गई साथ ही कई अन्य घायल हो गये. नाराज भीड़ ने कई वाहनों में तोड़फोड़ और आगजनी की.

अलीगढ़ मंडल के पुलिस महानिरीक्षक (आईजी) संजीव गुप्ता ने बताया कि गणतंत्र दिवस पर रैली निकालते समय कुछ असामाजिक तत्वों ने पथराव किया. आसपास के जिलों से फोर्स मंगाई गई है. उन्होंने बताया कि नगर में कर्फ्यू लगा दिया गया है. स्थिति तनावपूर्ण, किन्तु नियंत्रण में है.

उधर, आगरा जोन के अपर पुलिस महानिदेशक अजय आनंद ने बताया कि कासगंज में अतिरिक्त फोर्स भेजी गई है. शांति बनाए रखने के लिए कोशिश जारी है. उपद्रवियों की पहचान की जा रही है. आनंद कुमार ने बताया कि यह वारदात सुनियोजित नहीं थी बल्कि अचानक हुई. मौके पर जिलाधिकारी, पुलिस अधीक्षक, रैपिड एक्शन फोर्स तथा पीएसी के जवान पहुंच गए हैं.
(भाषा इनपुट)