मेंगलुरु: कर्नाटक के मैसुरु में पांच लोगों द्वारा तीन किशोरियों का कई महीनों तक कथित तौर पर यौन शोषण करने का मामला सामने आया है. पुलिस ने बताया कि इनमें से एक संदिग्ध मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है. पुलिस सूत्रों ने बताया कि गिरफ्तार व्यक्ति की पहचान मेंगलुरु के अबान (30) के रूप में हुई है. पुलिस भटकल , मेंगलुरु और बेंगलुरु के उसके चार साथियों की तलाश कर रही है. Also Read - पिता अपने दोस्त संग मिलकर कर रहा था 2 साल से बलात्कार, नाबालिग लड़की ने दिया बच्चे को जन्म

Also Read - नाबालिग बच्ची संग दुष्कर्म, आरोपी को गिरफ्तार करने गई पुलिस पर हुई फायरिंग

फेसबुक पर ‘पूजा’ बनकर की दोस्ती, फिर किडनैप कर वसूले पांच लाख रुपए, दो अरेस्ट Also Read - अजीब-सी कहानी: नाबालिग से पहले किया दुष्कर्म फिर जबरन की शादी और दे दिया तलाक

उन्होंने बताया कि 16, 17 और 18 साल की ये तीन बहनें मैसुरु में उदयरगिरी की रहने वाली हैं और इनका मांड्या , बेंगलुरु और मेंगलुरु समेत अलग-अलग स्थानों पर कथित तौर पर यौन शोषण किया गया. यह मामला तब सामने आया जब लड़कियों की मां ने मैसुरु स्थित एक एनजीओ ओडानाडी सेवा समिति (ओएसएस) में शिकायत दर्ज कराई. एनजीओ की जांच में यह खुलासा हुआ कि इस दौरान लड़कियों को जबरन वेश्यावृत्ति में धकेला गया.

हलाला निकाह मामला: ससुर के खिलाफ रेप का मुकदमा, पीड़िता की तहरीर पर हुई कार्रवाई

ओएसएस निदेशक एम एल परशुराम और के वी स्टेनली ने कहा कि लड़कियां गरीब परिवार की हैं. उनके पड़ोस में रहने वाले एक व्यक्ति ने उनसे दोस्ती की और उन्हें उपहार देने का लालच देकर अपने दोस्तों की मदद से बेंगलुरु , मेंगलुरु और मांड्या लेकर गया. महीनों लापता रहने के बाद लड़कियों की मां ने एनजीओ का रुख किया और बाद में उदयगिरी पुलिस थाने में मामला दर्ज कराया.

कठुआ केस में बचाव पक्ष के वकील को बनाया AAG, महबूबा-उमर ने की आलोचना

पुलिस ने पीड़िताओं का पता लगाया और उन्हें काउंसिलिंग तथा पुनर्वास के लिए ओएसएस लेकर आई. पुलिस ने उनसे दोषियों के बारे में सूचना एकत्रित की. पुलिस ने उनमें से एक लड़की से मंगलवार को मेंगलुरु से अबान को फोन करने के लिए कहा और उसे पकड़कर तुरंत गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने बताया कि उसे पूछताछ के लिए मैसुरु ले जाया गया है.