नई दिल्ली: उत्तर भारत के कई हिस्सों में पिछले कुछ दिनों से ठंड बहुत बढ़ गई है. लगातार शीत लहर से भी इस क्षेत्र के कई हिस्सों में ठंड का प्रकोप बढ़ता हुआ दिखा. दिल्ली और इसके आस पास के अन्य प्रमुख शहरों में इस मौसम का सबसे कम तापमान दर्ज किया गया. वहीं, राजस्थान, पंजाब, जम्मू-कश्मीर और हरियाणा में अलग-अलग स्थानों पर घना कोहरा छाया रहा. देश की राजधानी में हर साल ठंड का एक नया रिकॉर्ड दर्ज होता है और उसी सिलसिले में बीते बुधवार को दिल्ली में 7 डिग्री सेल्सियस के साथ मौसम कासबसे ठंडा दिन रिकॉर्ड किया गया.

इस ठंड को मद्देनजर रखते हुए गुरुवार और शुक्रवार को पड़ोसी गाजियाबाद और गौतम बूद्ध नगर में स्कूलों को बंद रखने का आदेश दिया गया है. मौसम विभाग ने कहा कि अधिकतम तापमान 18 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से पांच डिग्री कम और आर्द्रता का स्तर 97 से 61 प्रतिशत के बीच दर्ज किया गया.

शीतलहर के चलते नोएडा, ग्रेटर नोएडा व गाजियाबाद समेत यूपी के सभी स्कूल दो दिन के लिए बंद

मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार गुरुवार सुबह शहर में कई जगहों पर कोहरे छाए रहने के साथ ही ठंड बहुत अधिक रहेगी. अधिकतम तापमान 19 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने की संभावना है. रिपोर्ट के अनुसार चंडीगढ़ में अधिकतम तापमान 11.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो शिमला से कम था. यह केंद्र शासित प्रदेश का इस मौसम का अब तक का सबसे ठंडा दिन था.

पंजाब और हरियाणा में, नारनौल और फरीदकोट क्रमशः 2.5 डिग्री सेल्सियस और 3.6 डिग्री सेल्सियस पर सबसे ठंडा रहे, जबकि राजस्थान के माउंट आबू में रात का तापमान 1.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. जम्मू में, रात का तापमान 4.8 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया, जो इस सीजन अब तक का सबसे कम तापमान है.

जम्मू कश्मीर और लद्दाख में पिछले एक सप्ताह से पारा काफी नीचे है और पिछले कुछ दिनों से ऊंचाई वाले इलाकों में भारी बर्फबारी हो रही है. इसके अलावा मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल, असम, मेघालय, त्रिपुरा, सिक्किम समेत देश के कई अन्य हिस्सों में कड़ाके की सर्दी जारी है.