नई दिल्ली : ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (All India Majlis-e-Ittehadul Muslimeen) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने नागरिकता कानून (Citizenship Amendment Act) को लेकर एक बार फिर मोदी सरकार पर निशाना साधा है. नागरिकता कानून के आने के बाद से वह कई बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) की आलोचना कर चुके हैं, ऐसे में एक बार फिर उन्होंने इस कानून के खिलाफ आपत्ति जाहिर करते हुए विवादित बयान दिया है. ओवैसी ने नागरिकता कानून के तहत जरूरी दस्तावेजों को ना दिखाने की बात कहते हुए कागजों की जगह सीने पर गोली खाने की बात कही है. Also Read - कौन हैं पीरजादा सिद्दीकी, जिन्होंने बंगाल में पार्टी बनाने का किया ऐलान और उड़ गई ममता बनर्जी की नींद

नागरिकता कानून को लेकर प्रधानमंत्री मोदी की आलोचना करते हुए असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि, ‘जो भी मोदी और शाह के खिलाफ आवाज उठाएगा वह सही मायने में मर्द-ए-मुजाहिद कहलाएगा. मैं वतन में रहूंगा, कागज नहीं दिखाउंगा. अगर कागज दिखाने की बात होगी तो सीना दिखाएंगे कि मार गोली. मार दिल पे गोली मार क्योंकि दिल में भारत की मोहब्बत है.’ Also Read - Check PMAYG 2021 Beneficiary List: प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 2691 करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता जारी करेंगे पीएम मोदी, जानिए कैसे लें इस योजना का लाभ

बता दें कि जब से संसद में नागरिकता संशोधन कानून पारित हुआ है तब से देश के कई हिस्सों में इसे लेकर विरोध हो रहा है. यह पहला मौका नहीं है जब औवैसी ने इसके खिलाफ कुछ कहा है. इससे पहले भी कई मौकों पर वो सीएए और एनआरसी जैसे मुद्दों पर साफ तौर पर विरोध करते दिखे हैं. औवैसी सीएए को लेकर पहले भी बोले हैं कि सदियों से हमारे बुजुर्ग यहां रहे हैं और हमें नागरिकता साबित करने के लिए किसी कागज को दिखाने की जरूरत नहीं है.