Covid Vaccines And Oxygen News: देश में कोविड-19 के लगातार बढ़ते संक्रमण के मामलों के साथ तेज होती ऑक्सीजन की मांग के मद्देनजर केंद्र सरकार ने शनिवार को इसकी उपलब्धता बढ़ाने के लिए ऑक्सीजन और ऑक्सीजन संबंधी उपकरणों के आयात से मूल सीमा शुल्क (Customs Duty) और स्वास्थ्य उपकर (Health cess) हटाने का निर्णय किया. इसके साथ ही कोविड-19 टीकों के आयात पर लगने वाले मूल सीमा शुल्क को भी तत्काल प्रभाव से अगले तीन महीनों तक हटाने का निर्णय किया गया.Also Read - खाने का तेल होगा सस्ता! सोयाबीन, सूरजमुखी तेल के आयात पर 2 साल के लिए कस्टम ड्यूटी और सेस खत्म

वित्त मंत्रालय की ओर से जारी एक बयान के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई एक उच्च स्तरीय बैठक में यह निर्णय किए गए. प्रधानमंत्री ने ऑक्सीजन और ऑक्सीजन संबंधी उपकरणों की आपूर्ति बढ़ाने के उपायों पर चर्चा के लिए आयोजित इस उच्च स्तरीय बैठक की अध्यक्षता की. बयान में कहा गया कि इससे ऑक्सीजन और ऑक्सीजन संबंधी उपकरणों की उपलब्धता बढ़ेगी और इसके मूल्य किफायती होंगे. मोदी ने इस दौरान राजस्व विभाग को इन उपकरणों के सीमा निकासी की प्रक्रिया को निर्बाध सुनिश्चित करने का भी निर्देश दिया. Also Read - चौथी लहर की आशंकाओं के बीच टीके की दूसरी और Booster Dose का गैप कम कर सकती है सरकार

मोदी ने जोर दिया कि घर या अस्पतालों में मरीजों की आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए चिकित्सीय ऑक्सीजन और संबंधित उपकरणों को जुटाने का तत्काल आवश्यकता है. उन्होंने इस संदर्भ में सभी मंत्रालयों और विभागों को मिलकर करने को कहा. Also Read - DCGI ने भारत बायोटेक को दी मंजूरी, 6-12 साल के बच्चों को अब लग सकेगी वैक्सीन

बैठक के दौरान प्रधानमंत्री को अवगत कराया गया कि हाल ही में रेमडेसिवीर पर सीमा शुल्क हटा दिया गया है. साथ ही उन्हें बताया गया कि मरीजों की आवश्यकता को देखते हुए ऑक्सीजन और ऑक्सीजन संबंधी उपकरणों को उपलब्ध कराने की प्रक्रिया में तेजी लानी होगी.

(इनपुट भाषा)