नई दिल्ली: पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम आईएनएक्स मीडिया मामले में पूछताछ के लिए बुधवार को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के कार्यालय पहुंचे. आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि कांग्रेस के सीनियर नेता को मामले के जांच अधिकारी (आईओ) के समक्ष पेश होकर धनशोधन रोकथाम कानून (पीएमएलए) के तहत बयान दर्ज कराने को कहा गया था. चिदंबरम अपने वकील के साथ सुबह करीब साढ़े ग्यारह बजे पहुंचे.Also Read - Mumbai: ED Raid के दौरान शिवसेना नेता आनंदराव अडसुल की तबीयत बिगड़ी, अस्‍पताल ले जाया गया

बता दें कि केंद्रीय जांच एजेंसी ने इससे पहले इस मामले में चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम से पूछताछ की थी और भारत और विदेश में उनकी करीब 54 करोड़ रुपए की संपत्तियां भी कुर्क कर ली थीं. Also Read - दिल्ली हाईकोर्ट में ED का दावा- 'अभिषेक बनर्जी की पत्नी रुजिरा समन की तारीख पर ब्यूटी पार्लर में थीं'

ईडी ने सीबीआई की प्राथमिकी के आधार पर इस सौदा मामले में पीएमएलए के तहत मामला दर्ज किया था और आरोप लगाया था कि 2007 में 305 करोड़ रुपए तक की विदेशी पूंजी प्राप्त करने के लिए आईएनएक्स मीडिया को विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड (एफआईपीबी) की मंजूरी देने में गड़बड़ियां हुई थीं. इस दौरान पी. चिदंबरम केंद्रीय वित्त मंत्री थे. Also Read - ED ने आजम खां से सीतापुर जेल में पूछताछ की, जानें क्या है मामला

ईडी ने कार्ति, आईएनएक्स और उसके निदेशकों पीटर एवं इंद्राणी मुखर्जी समेत सीबीआई शिकायत में नामजद अन्य आरोपियों के खिलाफ पुलिस की प्राथमिकी के बराबर माने जाने वाली प्रवर्तन मामला सूचना रिपोर्ट (ईसीआईआर) दर्ज की थी.

सीबीआई ने कार्ति चिदंबरम को 2007 में आईएनएक्स मीडिया को एफआईपीबी की मंजूरी दिलाने में मदद करने के लिए पैसा लेने के मामले में इस साल 28 फरवरी को गिरफ्तार भी किया था.