श्रीनगर: सुरक्षा बलों ने अमरनाथ यात्रा मार्ग से पाकिस्तान में बनी बारूदी सुरंग और बड़ी मात्रा में हथियार बरामद किये हैं. सेना ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. लेफ्टिनेंट जनरल केजेएस ढिल्लों ने यहां सुरक्षा बलों के एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में कहा कि खुफिया जानकारी मिली थी कि पाकिस्तान के आतंकवादी आईईडी का इस्तेमाल करके यात्रा को निशाना बना सकते हैं और श्रद्धालुओं पर हमला कर सकते हैं. इसके बाद यात्रा मार्ग पर खोजी अभियान चलाया गया था.

 

उन्होंने कहा कि सुरक्षा बलों द्वारा अमरनाथ यात्रा मार्ग पर चलाए गए बड़े अभियान के दौरान भारी मात्रा में हथियार बरामद हुए हैं. इनमें पाकिस्तान आयुध फैक्ट्री के ठप्पे वाली एक बारूदी सुरंग और अमेरिकी एम-24 स्नाइपर राइफल भी शामिल है. ढिल्लों ने उस स्थान के बारे में स्पष्ट रूप से बताने से इंकार किया जहां से हथियार बरामद किये गये क्योंकि तलाशी अभियान अब भी जारी है. उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर में आईईडी का खतरा अंदरूनी भागों में अधिक है जबकि नियंत्रण रेखा पर स्थिति कुल मिलाकर शांतिपूर्ण बनी हुई है.


अधिकारी ने कहा कि पाकिस्तानी आतंकवादियों द्वारा घुसपैठ के लगातार प्रयास किये जा रहे हैं लेकिन सेना एलओसी पर उनके प्रयासों को नाकाम कर रही है. घाटी में अतिरिक्त जवान भेजने संबंधी खबरों पर, जम्मू कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह ने कहा कि सुरक्षाकर्मी चुनावों तथा अन्य के कारण से सालभर नियमित ड्यूटी पर रहते हैं और उनके पास आराम करने का समय नहीं होता.


उन्होंने कहा कि आतंकवादियों द्वारा हिंसा बढ़ाने का ताजा इनपुट मिला है, जिसके लिए जमीन पर जवाबी खुफिया ढांचा मजबूत करने की जरूरत है. सिंह ने यह बताने से इंकार किया कि कितनी संख्या में अतिरिक्त जवानों की तैनाती की जा रही है. उन्होंने कहा कि वे मोर्चे पर तैनात जवानों को कुछ आराम करने का समय देंगे और सुरक्षा प्रणाली को मजबूत करेंगे.