नई दिल्‍ली: देश में संशोधित नागरिकता कानून मामले में अभी जेएनयू छात्र शरजील इमाम के बयान का मामला थमा नहीं था कि सीएए का विरोध कर रहे कार्यकर्ता तपन बोस ने एक विवादित बयान दिया है. बुधवार को इसका यह वीडियो सामने आया है. इस वीडियो में जंतर मंतर में सीएए के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे तपन बोस ने कहा, ”पाकिस्‍तान कोई शत्रु देश नहीं है. भारत और पाकिस्‍तान के रूलिंग क्‍लास एक जैसे हैं. हमारी सेनाएं भी एक जैसी हैं, उनकी सेना उनके लोगों को मारती है और हमारी आर्मी हमारे लोगों को मारती है.” Also Read - PM Modi in Kevadia LIVE: पीएम मोदी गुजरात पहुंचे, केवड़िया में थोड़ी देर में सैन्‍य कमांडरों के सम्मेलन को करेंगे संबोधित

बता दें कि सीएए) विरोधी कार्यकर्ता शरजील इमाम को मंगलवार को बिहार के जहानाबाद जिले से पुलिस ने गिरफ्तार किया था. उसे बुधवार को दिल्‍ली लाया गया है, जहां कोर्ट के समक्ष पेश कर पुलिस उसके रिमांड के लिए मांग कर सकती है. रजील कथित तौर पर भड़काऊ भाषण देने के मामले में देशद्रोह का मामला दर्ज किये जाने के बाद से फरार था. Also Read - COVID-19: देश में कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से बढ़ रहा, 24 घंटे में आए 18,327 नए केस

सोशल मीडिया पर उसके भड़काऊ भाषण का वीडियो वायरल होने के बाद उस पर मामला दर्ज किया गया था. वीडियो में उसे असम और पूर्वोत्तर को शेष भारत से काटने की बात करते सुना गया था. उसे वीडियो में कहते सुना गया, ”अगर पांच लाख लोग संगठित हो जाएं तो हम पूर्वोत्तर और भारत को स्थाई तौर पर काट सकते हैं. अगर ऐसा नहीं तो कम से कम एक महीने या आधे महीने के लिए ही सही. रेल पटरियों और सड़कों पर इतना मवाद डाल दो कि वायु सेना को इसे साफ करने में एक महीना लग जाए.”

शरजील वीडियो में कह रहा है, ”असम को (शेष भारत से) काटना हमारी जिम्मेदारी है, तभी वे (सरकार) हमारी बात सुनेंगे. हम असम में मुसलमानों की स्थिति जानते हैं. उन्हें डिटेंशन कैंपों में रखा जा रहा है.”

गौरतलब है कि आईआईटी मुंबई से कम्प्यूटर साइंस में स्नातक इमाम जेएनयू के इतिहास अध्ययन केंद्र से पीएचडी करने के लिए दिल्ली चला गया था. (इनपुट: एजेंसी)