पिछले दिनों घाटी में बुरहान वानी के एनकाउंटर के बाद पाकिस्तान ने भारत पर आरोप लगाए थे कि भारत कश्मीर में मानवाधिकार का हनन कर रहा है। पाकिस्तान ने कश्मीर की हालात को लेकर काला दिवस मनाया था। लेकिन अब पाकिस्तान के झूठ और फरेब की पोल खुल गई है। पीएमओ में केद्रीय राज्यमंत्री डॉ जितेंद्र सिंह ने कहा कि पाकिस्तान भारत में अलगाववादियों को उकसा रहा है। उन्होंने कहा हमारे पास इस बात के पर्याप्त सबूत हैं।

यह भी पढ़ेंः हाफिज सईद ने कश्मीर में हो रहे विरोध मार्च को लेकर किया चौंकाने वाला खुलासा

जितेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि अब पाकिस्तान के झूठ का पर्दाफास हो गया क्योंकि जिन आतंकवादियों की गिरफ्तारी हुई है उन्होंने पाकिस्तान के समर्थन की बात स्वीकार की है। पूछताछ में आतंकी ने बताया है कि पाकिस्तान घाटी में हिंसा को बढ़ावा दे रहा है। इसके लिए आईएसआई उन्हें भारत भेज रही है। गौरतलब है कि कल खबर आई थी कश्मीर के नौगाम में घुसपैठ कर रहे आतंकियों में  से सेना ने चार को ढ़ेर कर दिया और एक आतंकी को जिंदा पकड़ लिया था।

22 साल के इस आतंकी बहादुर अली ने अपने कबूलनामे में बताया कि उसे आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा ने ट्रेनिंग दी थी। भारत में आतंक फैलाने के लिए उसे लश्कर ने उसे भेजा था। इस वक्त बहादुर अली NIA के कब्जे में है। एक अंग्रेजी न्यूज़ चैनल की खबर के अनुसार आतंकी पाकिस्तानी नागरिक होने और हथियारों की स्पेशल ट्रेनिंग की बात कबूलता दिख रहा है। बहादुर अली का कबूलनामा मोबाइल पर रिकॉर्ड है।

यह भी पढ़ेंः पाक की फिर खुली पोल, आतंकी अली ने NIA के आगे कबूला कि मै ‘पाकिस्तानी हूं

पाकिस्तान द्वाारा कश्मीर मसले पर बयानबाजी करने पर भारत ने सख्त चेतावनी दी थी कि हमारा अंदरूनी मसले में पाक दखल न दे। उसके बावजूद पाकिस्तान ने कश्मीर के हालात पर काला दिवस मनाने की घोषणा की थी। लेकिन आतंकी के कबूलनामे से पाकिस्तान की पोल खुल गई है कि आखिर कश्मीर में हिंसा को बढावा देने में उसका भी हाथ है।