तिरुवनंतपुरम: कुथालुपुझा में पाकिस्तान निर्मित 14 गोलियां मिलने के मामले की जांच में एनआईए की मदद के लिए सैन्य खुफिया विभाग की टीम केरल पहुंची. ये गोलियां यहां से 70 किलोमीटर की दूरी पर स्थित तमिलनाडु के जंगलों की सीमा पर स्थित कुथालुपुझा में मिली थीं. गोलियां एक प्लास्टिक बैग में बंद थीं और कोलम के मलयाली अखबार में लिपटी हुई थीं. Also Read - PSL की कमाई से Umar Akmal का जुर्माना भरेंगे भाई Kamran Akmal!

बाइक सवार दो लोगों ने संदिग्ध पैकेट को देखा, जिसके बाद उन्होंने पैकेट को खोला तो उसमें उन्हें गोलियां दिखीं. उन्होंने तुरंत पुलिस को सूचना दी. पुलिस के अनुसार, गोलियों पर पीओएफ का चिह्न था, जिसे प्रारंभिक तौर पर पाकिस्तान ऑर्डनेंस फैक्ट्री के प्रतीक-चिह्न् के तौर पर देखा जा रहा है. माना जा रहा है कि इसका निर्माण साल 1981-82 में हुआ है. Also Read - Covid-19: सेना ने पंजाब, हरियाणा के 3 कोविड अस्पतालों में लगाए ऑक्सीजन प्लांट, दिन-रात काम कर रहे जवान

राज्य पुलिस प्रमुख लोकनाथ बेहरा ने क्राइम ब्रांच को मामले की जांच करने के लिए कहा. सैन्य खुफिया विभाग के साथ अधिकारी शहर में आ चुके हैं, हालांकि राष्ट्रीय जांच एजेंसी द्वारा जांच जल्द शुरू किए जाने की उम्मीद है. Also Read - Indian Army SSC Officer Recruitment 2021: भारतीय सेना में ऑफिसर बनने का सुनहरा मौका, आवेदन प्रक्रिया शुरू, लाखों में होगी सैलरी

(इनपुट आईएएनएस)