नई दिल्ली: भारत ने अमेरिका के आगामी दौरे के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के वीवीआईपी विमान को अपने वायु क्षेत्र से उड़ान की अनुमति नहीं देने के लिए बुधवार को पाकिस्तान पर निशाना साधा. इससे पहले पाकिस्तान ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के विमान को आइसलैंड के आधिकारिक दौरे के दौरान अपने हवाई क्षेत्र से उड़ान भरने की अनुमति देने से मना कर दिया था.

विमान को उड़ान की अनुमति देने से हालिया इनकार के बारे में पूछे जाने पर विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि दो सप्ताह में दूसरी बार वीवीआईपी विमान को उड़ान की अनुमति देने से पाकिस्तान सरकार के इनकार के फैसले पर हमें अफसोस है. हालांकि किसी भी देश द्वारा नियमित रूप से यह अनुमति प्रदान की जाती है. उन्होंने कहा, पाकिस्तान को स्थापित अंतरराष्ट्रीय परिपाटी से हटने के अपने फैसले पर सोच विचार करना चाहिए, साथ ही एकतरफा कार्रवाई के कारणों को गलत तरीके से पेश करने की अपनी पुरानी आदत पर भी पुनर्विचार करना चाहिए.

पाकिस्तान ने ‘कश्मीर में मौजूदा स्थिति का हवाला देते हुए’ जर्मनी होकर अमेरिका की आगामी यात्रा के लिए मोदी के विमान को अपने वायु क्षेत्र के इस्तेमाल की इजाजत देने से इनकार कर दिया. इससे पूर्व, पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा, ‘‘भारत ने मोदी को 21 (सितम्बर) को जर्मनी जाने और 28 (सितम्बर) को वापसी के लिए पाकिस्तान से उसका वायु क्षेत्र इस्तेमाल करने देने का आग्रह किया था.’’

कुरैशी ने एक वीडियो बयान के जरिये निर्णय की घोषणा करते हुए कहा, ‘‘इस्लामाबाद में भारतीय उच्चायुक्त को पाकिस्तान के इस निर्णय से अवगत करा दिया गया है कि वह मोदी के विशेष ‘एयर इंडिया वन’ विमान को देश के ऊपर से उड़ान भरने की इजाजत नहीं देगा.’’ उन्होंने कहा, ‘‘कश्मीर में वर्तमान स्थिति, वहां भारत के रुख और अत्याचार के मद्देनजर हमने निर्णय किया है कि हम भारतीय प्रधानमंत्री की उड़ान के लिए हमारे वायु क्षेत्र का इस्तेमाल नहीं करने देंगे.’’