कासगंज: सियासत जोरों पर, सोशल मीडिया पर अफवाहों का बाजार गर्म

घटना के चार दिन बाद पुलिस प्रशासन भी पूरी तरह अलर्ट है.

Updated: January 30, 2018 2:04 PM IST

By India.com News Desk | Edited by amit mandal

Pakistan supporters have come to Kasganj, they only respect Pakistani flag says Vinay katiyar | कासगंज हिंसा: सियासी बयानबाजी जोरों पर, सोशल मीडिया पर अफवाहें तेज

उत्तर प्रदेश के कासगंज में हिंसा की आग रह रहकर जल रही है. पुलिस प्रशासन हालात पर काबू करने के लिए दिन रात एक किए हुए हैं, लेकिन सियासी बयानबाजी रुकने का नाम नहीं ले रही है. भारतीय जनता पार्टी नेता विनय कटियार ने इसे लेकर सख्त  बयान दिया है. वहीं, केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ने उपद्रवियों से सख्ती से निपटने की बात कही है.

Also Read:

कासगंज में पाक समर्थक- कटियार 

कटियार ने कहा कि पाकिस्तान समर्थक कासगंज में आए थे, वे लोग सिर्फ पाकिस्तानी झंडे का सम्मान करते हैं और पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगा रहे थे. कटियार ने कहा कि इन लोगों ने हमारे एक कार्यकर्ता को मार डाला, इन लोगों से सख्ती से निपटा जाना चाहिए था.

उन्होंने कहा कि कासगंज घटना बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है. इससे पहले इस जिले में किसी तरह का सांप्रदायिक तनाव नहीं था. सभी समुदाय मिल जुलकर रहते थे. लेकिन कुछ उपद्रवी तत्वों ने जो पाकिस्तान का समर्थन करते हैं और तिरंग का अपमान करने के लिए किसी भी स्तर तक जा सकते हैं. इनसे सख्ती के साथ निपटा जाना चाहिए.

वहीं केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति ने भी इस कांड को लेकर तीखे तेवर दिखाए. साध्वी ने कहा कि ये घटना बताती है कि राष्ट्रविरोधी तत्व तिरंगा यात्रा बर्दाश्त ही नहीं कर सकते. यूपी सरकार सख्त कार्रवाई कर रही है. ऐसी घटनाएं बर्दाश्त नहीं की जाएंगी. इसका राजनीतिकरण भी नहीं होना चाहिए.

घटना के चार दिन बाद पुलिस प्रशासन भी पूरी तरह अलर्ट है. अलीगढ़ रेंज के आईजी संजीव गुप्ता ने कहा कि घटना की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया गया है. इसके अलावा मजिस्ट्रेट जांच के भी आदेश दिए गए हैं.

सोशल मीडिया पर अफवाहों का दौर
कासगंज में तनाव के माहौल के बीच सोशल मीडिया में अफवाहों का बाजार गर्म है. ऐसे ही एक मामले में एक युवक के मारे जाने की खबर है जो खुद अपने जिंदा होने की गवाही दे रहा है. राहुल उपाध्याय नाम के लड़के ने बताया कि मेरे एक दोस्त ने मुझे बताया कि सोशल मीडिया पर कासगंज घटना में मेरे मारे जाने की अफवाह उड़ रही है. लेकिन दंगे के वक्त में कासगंज में था ही नहीं. मैं अपने गांव गया हुआ था. मैं पूरी तरह ठीक हूं.

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. India.Com पर विस्तार से पढ़ें देश की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Published Date: January 30, 2018 2:02 PM IST

Updated Date: January 30, 2018 2:04 PM IST