पाकिस्तान, दरगाहों में मिले पैसो से भारत में आतंकवादी गतिविधियों को फंडिंग करता है. राजस्थान पुलिस की खुफिया एजेंसियों को यह  जानकारी मिली है.  एक हिंदी पोर्टल की खबर के अनुसार आईएसआई के गिरफ्तार एक जासूस ने पुलिस को बताया कि आतंकी दरगाहों के बाहर चंदा जमा करने के लिए दान पेटी लगाते है. श्रद्धालु उन दान पेटियों में पैसे डालते हैं जिससे आतंकवादी गतिविधियों की फंडिंग होती है.
आपको बता दें कि बाड़मेर जिले से पिछले सप्ताह एक जासूस दीना खान को पकड़ा गया था. उसने इन सब बातों का खुलासा किया है. खान के अनुसार वह बाड़मेर जिले की एक छोटी मजार का प्रभारी था. उसने कुछ पैसे अन्य जासूस को दिए थे. पाकिस्तान में बैठे आतंकी खान को फोन पर पैसे बांटने के निर्देश देते थे.
सुरक्षा एजेंसियों को शक है कि आईएसआई के आतंकियों ने पैसा जुटाने के लिए सीमावर्ती क्षेत्रों के कई स्थानों पर दान पेटियां लगाईं होगी. यह पैसे जुटाने और उसे आतंकियों के बीच बांटने का बहुत ही आसान तरीका है. हवाला नेटवर्क के ज़रिये पैसे जुटाना अभी आसान नहीं है.
Also Read - BAN vs PAK, 2nd Test: बारिश ने किया फैंस का मजा किरकिरा, शतक की ओर कप्तान Babar Azam

Also Read - भगत सिंह को बेकसूर साबित करने के लिए पाकिस्तान में दायर की गई याचिका? जानिए क्या है इस वायरल वीडियो का सच

Also Read - पाकिस्तानी सेना ने इस क्षेत्र में 450 गोले दागे थे, लेकिन इस देवी मंदिर को खरोंच तक नहीं आई थी