नई दिल्ली: पाकिस्तान द्वारा संयुक्त राष्ट्र में दी गई एक याचिका में कांग्रेस नेता राहुल गांधी के बयान का जिक्र करने से जुड़ी खबरों को लेकर भाजपा और कांग्रेस के बीच बुधवार को जमकर वाकद्ध देखने को मिला. केंद्र में सत्तारूढ़ बीजेपी ने जहां ‘गैरजिम्मेदाराना बयान’ के लिए गांधी को माफी मांगने को कहा, तो वहीं, मुख्य विपक्षी पार्टी कांग्रेस ने कहा कि जब जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में बाहरी दखलअंदाजी के खिलाफ पूरा देश एकजुट है, तो भाजपा को इसे सस्ती राजनीति का मुद्दा नहीं बनाना चाहिए क्योंकि ऐसा करना देश विरोधी होगा.

पाकिस्तान सरकार द्वारा राहुल के बयान का उल्लेख करने की खबर आने के साथ ही कांग्रेस हमलावर रुख अपनाते हुए इस्लामाबाद पर जमकर बरसी और कहा कि पाकिस्तान कितना भी झूठ और प्रपंच फैला ले, लेकिन यह सच्चाई नहीं बदलने वाली है कि जम्मू-कश्मीर एवं लद्दाख भारत के अटूट अंग थे, हैं और हमेशा रहेंगे.

राहुल ने पहले पाक को सुनाई खरी- खरी
सबसे पहले राहुल गांधी ने पाकिस्तान को खरी-खरी सुनाते हुए दो टूक कहा कि कई मुद्दों पर नरेंद्र मोदी सरकार से असहमत होने के बावजूद वह यह स्पष्ट करना चाहते हैं कि जम्मू-कश्मीर भारत का आंतरिक मामला है और पाकिस्तान या कोई दूसरा देश इसमें दखल नहीं दे सकता.

बीजेपी ने कहा राहुल देश से माफी मांगे
मामले के तूल पकड़ने के बाद भाजपा ने राहुल गांधी और कांग्रेस पर तीखा प्रहार करते हुए कहा कि गांधी मन से नहीं, बल्कि परिस्थिति एवं जन दबाव के कारण अपने बयान से पलटे हैं और कांग्रेस नेता एवं उनकी पार्टी को इस शर्मसार करने वाले गैर जिम्मेदाराना बयान के लिए देश से माफी मांगनी चाहिए, जिसका पाकिस्तान संयुक्त राष्ट्र जैसे मंच पर इस्तेमाल कर रहा है. भाजपा के वरिष्ठ नेता प्रकाश जावड़ेकर ने दावा किया कि राहुल पाकिस्तान के हाथों में खेल रहे हैं और उनके बयान को पड़ोसी देश संयुक्त राष्ट्र में भारत के खिलाफ इस्तेमाल कर रहा है.

जावडेकर ने कहा- कांग्रेश ने देश को शर्मसार किया
सूचना एवं प्रसारण मंत्री जावड़ेकर ने कहा, कांग्रेस ने अपनी हरकतों से देश को शर्मसार किया है. जिस प्रकार राहुल गांधी ने जम्मू-कश्मीर के बारे में टिप्पणियां कीं, वो निंदनीय है. राजनीतिक मतभेद रहे हैं, लेकिन ऐसा कभी किसी ने नहीं कहा या बोला जिसका पाकिस्तान ने इस्तेमाल किया हो. इस तरह का गैर जिम्मेदाराना राजनीतिक व्यवहार पिछले 70 वर्षों में नहीं देखा गया. जावड़ेकर ने तंज कसते हुए कहा कि ऐसा लगता है कि वायनाड से चुनाव जीतने के बाद राहुल गांधी की सोच बदल गई है.

प्रकाश जावड़ेकर अपना राजनीतिक संतुलन खो बैठे हैं
कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने जावड़ेकर पर पलटवार करते हुए कहा, लगता है कि मोदी सरकार के ‘मिसइनफारमेशन मिनिस्टर’आदरणीय प्रकाश जावड़ेकर अपना राजनीतिक संतुलन खो बैठे हैं. राहुल गांधी जी ने सुबह स्पष्ट रूप से कहा कि जम्मू, कश्मीर और लद्दाख भारत का अभिन्न अंग थे, हैं और रहेंगे. पूरी दुनिया में किसी को इधर आंख उठाकर देखने की इजाजत नहीं है.’’

भाजपा कितना और गिरेगी? उन्‍हें माफी मांगनी चाहिए
कांग्रेस प्रवक्‍ता सुरजेवाला ने कहा, राहुल गांधी ने यह भी कहा है कि जम्मू-कश्मीर में जो हिंसा हो रही है, उस हिंसा का जनक पाकिस्तान है, क्योंकि पाकिस्तान की सरजमीं पर वहां की सेना की मदद से भारत विरोधी गतिविधि और आतंकवाद को पैदा किया जाता है. दुर्भाग्य से भाजपा और उसकी सरकार को इस पर ऐतराज है. क्या सरकार यह नहीं चाहती है कि इस मामले पर सभी लोग एक साथ खड़े हों? राहुल गांधी ने एक जिम्मेदार विपक्षी नेता के तौर पर कहा है कि पाकिस्तान और किसी दूसरे देश को हमारे आंतरिक मामले में दखल देने का अधिकार नहीं है. अब इस पर भी ऐतराज है. भाजपा कितना और गिरेगी? अगर उन्हें थोड़ा भी अहसास है तो उसे माफी मांगनी चाहिए.

भाजपा इसे सस्ती राजनीति का मुद्दा नहीं बनाए
सुरजेवाला ने कहा, जावड़ेकर और भाजपा सरकार के मन में भारत के प्रति अगर प्रेम है तो जब जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में बाहरी दखलअंदाजी के खिलाफ पूरा देश एकजुट है तो वह इसे सस्ती राजनीति का मुद्दा नहीं बनाए. ऐसा करना देश विरोधी होगा.उन्होंने कहा कि दुनिया में किसी को भी इसमें संदेह नहीं होना चाहिए कि जम्मू, कश्मीर और लद्दाख भारत का अभिन्न हिस्सा थे, हैं और सदा रहेंगे. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान की ओर से कितनी भी भ्रांति फैला दी जाए, लेकिन यह अकाट्य सच बदलने वाला नहीं है.

पाकिस्तान मानवाधिकार के घोर उल्लंघन पर जवाब दें
कांग्रेस प्रवक्ता ने पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए कहा, ‘पाकिस्तान को चाहिए कि वह दुनिया को पीओके-गिलगित- बाल्तिस्तान में मानवाधिकार के घोर उल्लंघन के बारे में जवाब दे. पाकिस्तान को सात करोड़ मुहाजिरों के उत्पीड़न और पाकिस्तानी सुरक्षा बलों द्वारा इनमें से 25 हजार लोगों की हत्या किए जाने पर जवाब देना चाहिए.’ सुरजेवाला ने कहा कि पाकिस्तान को बलूचिस्तान में मानवाधिकार का उल्लंघन करने, हजारों लोगों के गायब होने और सामूहिक कब्रें मिलने के बारे में भी जवाब देना होगा.

आतंकी संगठनों को पाक में फलने-फूलने का मौका मिला
सुरजेवाला ने कहा कि दुनिया को एक बार फिर से याद दिलाने की जरूरत है कि लश्कर-ए-तैयबा, जैश-ए-मुहम्मद, हिजबुल मुजाहिदीन, अल कायदा और तालिबान जैसे आतंकी संगठनों को पाकिस्तान में ही फलने-फूलने का मौका मिला है. कांग्रेस नेता ने कहा कि कश्मीर का राग अलापने की बजाय पाकिस्तान को इन मुद्दों पर पूरी दुनिया को जवाब देना चाहिए.

370 को हटाने का कांग्रेस ने विरोध किया
दरअसल, गांधी पिछले कई दिनों से जम्मू-कश्मीर के मामले को लेकर सरकार पर हमले कर रहे थे. उनका आरोप रहा है कि अनुच्छेद 370 के कई प्रावधान हटाने और राज्य को दो केंद्रशासित प्रदेशों में बांटने का कदम असंवैधानिक तरीके से उठाया गया है. पिछले दिनों गांधी विपक्ष के कई नेताओं के साथ कश्मीर जा रहे थे लेकिन उन्हें श्रीनगर हवाई अड्डे पर ही रोक कर दिल्ली वापस भेज दिया गया था.