हैदराबाद, 26 अक्टूबर। केंद्रीय मंत्री एम. वेंकैया नायडू ने बुधवार को पाकिस्तान पर आतंकियों को प्रशिक्षण और धन देने का आरोप लगाया। मंत्री के अनुसार, पड़ोसी देश को महसूस करने के लिए यह उचित समय है कि आतंकवाद को बढ़ावा देने की उसकी नीति आत्मघाती और दुस्साहसी है।

उन्होंने यहां संवाददाताओं से कहा, “यह हर कोई जानता है कि पाकिस्तान न केवल आतंकियों को सहायता, प्रश्रय और प्रशिक्षण देता है, बल्कि मसूद अजहर(जैश-ए-मोहम्मद) और सैयद सलाउद्दीन (हिजबुल मुजाहिदीन) जैसे आतंक के आकाओं को संरक्षण भी देता है।” उन्होंने कहा कि पाकिस्तान की माफिया डॉन दाउद इब्राहिम के साथ भी घनिष्ठता है। यह भी पढ़े-मोदी का तीन तलाक पर बयान भाजपा का चुनावी प्रपंच: ओवैसी

नायडू ने यह भी कहा कि पाकिस्तान के क्वे टा में सोमवार को हुए आतंकी हमले उसकी गलत नीतियों का परिणाम है और उन्होंने हमले में भारत के हाथ होने के आरोपों को खारिज किया। केंद्रीय मंत्री ने कहा, “पाकिस्तान आतंकवाद को बढ़ावा देने की अपनी नीति के कारण पीड़ा झेल रहा है। लेकिन वे क्वे टा के लिए भारत पर अंगुली उठा रहे हैं, जो अतिदुष्टतापूर्ण है।”

नायडू ने कहा, “वर्षो से पाकिस्तान भारत के साथ छद्म युद्ध लड़ रहा है और इस विवाद में अनावश्यक रूप से कश्मीर को घसीट रहा है। वे भारतीय लोकतंत्र, अर्थव्यवस्था को पंगु बनाना चाहते हैं.वे धर्म का इस्तेमाल कर भारत का विनाश करना चाहते हैं।”