जम्मू: पाकिस्तानी सैनिकों ने संघर्षविराम समझौते का उल्लंघन करते हुए जम्मू-कश्मीर के दो सेक्टरों में नियंत्रण रेखा (एलओसी) और अंतरराष्ट्रीय सीमा (आईबी) के पास असैन्य इलाकों में बिना उकसावे के शुक्रवार रातभर गोलीबारी की और मोर्टार के गोले दागे. अधिकारियों ने शनिवार को बताया कि भारतीय बलों ने पाकिस्तानी गोलीबारी का मुंहतोड़ जवाब दिया. इस दौरान किसी के हताहत होने की तत्काल कोई जानकारी नहीं मिली है. Also Read - आतंकी संगठनों को मदद दे रहा है पाकिस्तान, सुरक्षित वातावरण मुहैया कराना जाना जारी: विदेश मंत्रालय

एक रक्षा प्रवक्ता ने शनिवार सुबह कहा, ‘‘पाकिस्तान ने पुंछ के मनकोट सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास असैन्य इलाकों को निशाना बनाकर देर रात डेढ़ बजे छोटे हथियारों से गोलीबारी करके और मोर्टार के गोले दागकर बिना किसी उकसावे के संघर्षविराम समझौते का उल्लंघन किया. भारतीय सेना ने इसका मुंहतोड़ जवाब दिया.’’ Also Read - मार्केट इंटरवेंशन स्कीम के विस्तार को मंजूरी, मोदी सरकार के फैसले से जम्मू-कश्मीर के सेब उत्पादकों की बढ़ेगी कमाई

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि भारी गोलाबारी के कारण सीमावर्ती इलाकों में रहने वाले लोग घबरा गए. अधिकारी ने बताया कि तड़के साढ़े चार बजे गोलाबारी रुकी. उन्होंने यह भी बताया कि पाकिस्तानी रेंजरों ने कठुआ जिले के हीरानगर सेक्टर में आईबी के पास अग्रिम इलाकों को निशाना बनाया और वे पांच घंटे तक रुक-रुक कर गोलीबारी करते रहे. Also Read - कश्मीर में भारत 22 अक्टूबर को मनाएगा 'काला दिवस', 1947 में पाकिस्तान ने घाटी में कराई थी हिंसा

उन्होंने बताया कि पाकिस्तान ने शुक्रवार रात करीब पौने 12 बजे गोलीबारी शुरू की और यह शनिवार तड़के चार बजकर 40 मिनट तक जारी रही. सीमा सुरक्षा बल ने इसका उचित जवाब दिया.

अधिकारी ने बताया कि इस बीच, पुंछ के कस्बा सेक्टर में असैन्य इलाकों पर पाकिस्तानी गोलाबारी में 40 वर्षीय महिला हामिदा बी घायल हो गई. महिला की हालत ‘‘स्थिर’’ बताई जा रही है.