जम्मू. पुलवामा आतंकी हमले के बाद वैश्विक स्तर पर अलग-थलग पड़ा पाकिस्तान अब भी अपनी करतूतों से बाज नहीं आ रहा है. इस आतंकी घटना के बाद जबकि दुनिया के कई देश पाकिस्तान को आतंकी गतिविधियों पर लगाम लगाने, आतंकी फंडिंग रोकने जैसी सलाह दे रहे हैं, वहीं पाक इन सबसे बेखबर जम्मू-कश्मीर में भारत से लगी सीमा पर लगातार संघर्ष विराम का उल्लंघन कर रहा है. पाकिस्तान की सेना ने जम्मू-कश्मीर के राजौरी जिले में नियंत्रण रेखा के पास सोमवार को भी अग्रिम चौकियों और सीमा से सटे इलाकों को निशाना बनाया. पाकिस्तानी सेना ने पिछले हफ्ते में छह दिन उन इलाकों में संघर्षविराम का उल्लंघन किया.

एक रक्षा प्रवक्ता ने बताया कि भारतीय सैनिकों ने उसका करारा जवाब दिया है. उन्होंने कहा, ‘‘नौशेरा सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास शाम के करीब साढ़े छह बजे पाकिस्तान ने अकारण ही गोलीबारी शुरू कर संघर्षविराम का उल्लंघन किया.’’ पिछले हफ्ते के दौरान, पाकिस्तानी सेना ने राजौरी और पुंछ जिलों में अग्रिम चौकियों और रिहाइशी इलाकों में नियंत्रण रेखा (एलओसी) के पास गोलीबारी की और मोर्टार दागे.

पुलवामा हमले के बाद भारत और पाकिस्तान में बढ़ते तनाव के बीच संघर्षविराम उल्लंघन की घटनाएं बढ़ी हैं. आपको बता दें कि बीती 14 फरवरी को पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर पाकिस्तान समर्थित आतंकी गुट जैश-ए-मोहम्मद के आत्मघाती हमलवार ने हमला कर दिया था. इस घटना में सीआरपीएफ के 40 से ज्यादा जवान शहीद हो गए थे. घटना के बाद भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करते हुए उसे दिया गया ‘मोस्ट फेवर्ड नेशन’ का दर्जा छीन लिया है. वहीं कई देशों और विदेशी संगठनों ने पाकिस्तान की इस कायराना हरकत की तीखी निंदा की है.