कश्मीर में नियंत्रण रेखा के पास हालात ‘खराब होने’ के कारण भारत-पाक के बीच का तनाव बढ़ता जा रहा है। भारतीय सेना लगातार करारा जवाब पाकिस्तान को दी रही है. इसी बीच पाक उच्चायुक्त अब्दुल बासित का बयान सामने आया है कि पाकिस्तान भारत से बिना शर्त बातचीत करने के लिए तैयार है। जबकि पूर्व में पाकिस्तान भारत के साथ बातचीत के दौरान कोई न कोई शर्त लगाकर जानबूझकर वार्ता को पटरी से उतारता रहा है लेकिन इस बार उसके रुख में बड़ा बदलाव आया है। पाक उच्चायुक्त अब्दुल बासित ने यह बयान निजी टीवी चैनल आजतक से बातचीत के दौरान दिया। Also Read - पाकिस्तान के तेज गेंदबाज शाहीन शाह अफरीदी से होगी शाहिद अफरीदी की बेटी की सगाई, परिवार ने की पुष्टि

Also Read - Pakistan: PM इमरान खान ने 178 वोटों से नेशनल असेम्‍बली में विश्‍वासमत जीता

बातचीत के दौरान बासित ने कहा कि ‘उनका देश भारत के साथ किसी भी समय बिना शर्त बातचीत के लिए तैयार है। हालांकि बासित ने दावा किया उनका शुरू से ही यह रुख रहा है। उनका देश भारत के साथ बातचीत के द्वारा ही रिश्ते सुधारने की दशा में आगे बढ़ना चाहता है।’ बता दें कि पाकिस्तानी हाई कमिश्नर अब्दुल बासित अगले हफ्ते हार्ट ऑफ एशिया कॉन्फ्रेंस में हिस्सा लेने भारत आ रहे हैं। यह भी पढ़े-पाक सेना प्रमुख ने कहा- भारत कश्मीर विवादों को सुलझाना नहीं चाहता Also Read - चीन से दान किए गए टीकों के भरोसे पाकिस्तान, कोरोना वैक्सीन नहीं खरीदेगी इमरान सरकार!

गौरतलब है कि उरी में भारतीय सैन्य ठिकाने पर 18 सितंबर को हुए हमले और इसके जवाब में 10 दिन बाद सेना द्वारा पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में आतंकवादी ठिकानों पर लक्षित हमले के बाद से भारत एवं पाकिस्तान के बीच का तनाव बढ़ा है।इसके बाद से सीमा पार से होने वाली गोलीबारी बढ़ी है और दोनों पक्षों के जवान एवं असैन्य नागरिकों की मौत की घटनाएं बढ़ गई है।

आखिरी बातचीत से पहले खुद पाक उच्चायुक्त अब्दुल बासित ने कश्मीरी अलगाववादियों को वार्ता के लिए दिल्‍ली आने का न्यौता दे दिया था जिसके बाद भड़के भारत ने तुरंत वार्ता रद कर दी थी। उसके बाद से ही बातचीत की गाड़ी ठंडी पड़ी हुई थी इसी बीच बार्डर पर जारी गोलाबारी ने हालात और बिगाड़ दिए।