नई दिल्ली: जम्मू एवं कश्मीर के पुंछ जिले में रविवार को पाकिस्तान का एक हेलीकॉप्टरभारतीय हवाई क्षेत्र में घुस गया. रक्षा सूत्रों का कहना है कि हेलीकॉप्टर ने 12 बजकर 10 मिनट पर भारतीय हवाई क्षेत्र का उल्लंघन किया. एक अधिकारी ने कहा कि भारतीय हवाई क्षेत्र में रहने के बाद हेलीकॉप्टर लौट गया. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सेना ने हेलिकॉप्टर देखने के बाद जवाबी कार्रवाई में कुछ राउंड्स फायरिंग की. घुसपैठ को लेकर संवेदनशील माने जाने वाले इलाके पुंछ के गुलपुर सेक्टर में दोपहर करीब 12:10 बजे यह हेलिकॉप्टर भारत की सीमा के अंदर देखा गया. विडियो में सुरक्षाबलों की ओर से चलाए गए गन शॉट्स की आवाजें आ रही हैं.

आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि सफेद रंग के हेलीकॉप्टर ने गूलपुर क्षेत्र में सीमा के इस तरफ प्रवेश किया और कुछ देर मंडराने के बाद लौट गया. नियमों के अनुसार रोटर वाला कोई जहाज नियंत्रण रेखा के एक किलोमीटर नजदीक नहीं आ सकता, जबकि बिना रोटर का कोई प्लेन सीमा के 10 किलोमीटर नजदीक नहीं आ सकता है. गौरतलब है कि भारत ने आतंकवाद को शह देने के मुद्दे पर शनिवार को संयुक्त राष्ट्र के मंच पर पाकिस्तान को लताड़ लगाई थी और दोनों देशों के बीच वार्ता की प्रक्रिया विफल होने के लिए इस्लामाबाद को दोषी ठहराया.

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने संयुक्त राष्ट्र महासभा के 73वें अधिवेशन को संबोधित करते हुए संयुक्त राष्ट्र से भारत की पहल अंतर्राष्ट्रीय आतंकवाद पर व्यापक समझौता को शीघ्र स्वीकार करने की अपील की ताकि इस वैश्विक अभिशाप को स्पष्ट शब्दों में परिभाषित किया जा सके क्योंकि पाकिस्तान आतंकियों को स्वतंत्रता सेनानी कहता है. सुषमा स्वराज ने कहा कि हमारे मामले में आतंकवाद कहीं दूर में पैदा नहीं होता है बल्कि सीमा पार से आता है. हमारे पड़ोसी को न सिर्फ आतंकवाद को पैदा करने की विशेषज्ञता है बल्कि वह दोरंगापन की भाषा बोलते हुए नकाब ओढ़कर दुष्टता करने की कोशिश करने में भी माहिर है.

आपको बता दें कि भारत और पाकिस्तान की सेनाओं की ओर से शनिवार को जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा जिले में नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर भारी गोलाबारी की गई. रक्षा सूत्रों ने बताया कि पाकिस्तानी सेना ने कुपवाड़ा जिले के कर्नाह सेक्टर में एलओसी पर युद्धविराम का उल्लंघन किया. कर्नाह सेक्टर के साधपोरा में भारतीय ठिकानों को निशाना बनाने के लिए उन्होंने छोटे हथियार, स्वचालित बंदूक और मोर्टार का इस्तेमाल किया. हमारे सैनिकों ने मुंहतोड़ जवाब दिया.