नई दिल्लीः जम्मू-कश्मीर में पंचों और सरपंचों को पुलिस सुरक्षा के साथ ही दो-दो लाख रुपये का बीमा कवरेज मिलेगा. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने यह आश्वासन जम्मू कश्मीर के सरपंचों (ग्राम प्रधान) और पंचों (पंचायत सदस्य) के एक प्रतिनिधिमंडल को दिया. प्रतिनिधिमंडल ने मंगलवार को उनसे मुलाकात की. कुपवाड़ा के एक सरपंच मीर जुनैद ने कहा, ‘‘हमने गृह मंत्री से हमें सुरक्षा मुहैया कराने का अनुरोध किया है और उन्होंने हमें आश्वासन दिया है कि प्रशासन हमें सुरक्षा मुहैया कराएगा.’’

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ भारतीय पिचों पर खेलने का इंतजार है मुझे : विहारी

श्रीनगर जिले के हरवन से सरपंच जुबेर निषाद भट्ट ने कहा कि गृह मंत्री ने यह आश्वासन भी दिया है कि हर पंच और सरपंच को दो लाख रुपये का बीमा कवरेज प्रदान किया जाएगा. भट्ट ने कहा कि गृह मंत्री ने प्रतिनिधिमंडल को बताया कि अगले 15-20 दिनों  में जम्मू-कश्मीर में मोबाइल फोन सेवाएं बहाल कर दी जाएंगी.

Video: समंदर किनारे ‘गब्बर’ का मुरली अंदाज देखकर प्रशंसक बोले- कितने रूप हैं आपके

जुनैद के अनुसार गृह मंत्री ने पंच और सरपंच को बताया कि जैसा संसद में वादा किया गया है, स्थिति सामान्य होने पर जम्मू कश्मीर का राज्य का दर्जा बहाल किया जाएगा. जम्मू कश्मीर में छह साल के अंतराल के बाद पिछले साल पंचायत चुनाव हुए थे.