नई दिल्ली: इस बार दुर्गा पूजा में थीम बेस्ड पंडाल देखने को मिलेंगे. उत्तर प्रदेश के वाराणसी में इस बार चंद्रयान 2 की थीम पर दुर्गा पूजा का पंडाल बनाया गया है. यह पंडाल 100 फुट लंबा है, इसे बनने में लगभग 2 महीने का समय लगा है. इसे देवी मां की मूर्ति का रूप देने के साथ ही इसमें इसरो चीफ के सिवान और अतंरिक्षयात्रियों का स्टैच्यू भी बनाया गया है. दुर्गा पूजा कमेटी के मेंबर राजन जायसवाल ने एंजेसी से बात करते हुए कहा कि, भले ही चंद्रयान 2 मिशन सफल नहीं हो पाया लेकिन हम फिर भी इसरो की ओर से की गई मेहनत के लिए इसे सेलिब्रेट करना चाहते हैं.

मां दुर्गा के साथ सभी प्रतिमाओं को ईंट और बालू से बनाया जा रहा है. पूजा समिति विशेष पूजन और अनुष्ठान भी करने जा रही है ताकि 2021 में भारत चांद पर कदम रखने पर सफलता हासिल कर सके और पीएम मोदी का सपना साकार हो सके.

ISRO ने जारी की हाई रेजॉल्यूशन कैमरे से चांद की तस्वीरें, आप भी देखें

क्लब अध्यक्ष मनोज कुमार अच्चू के अनुसार 43वें साल में भी पहले की तरह पूजनोत्सव तीन दिनी होगा. दशमी पर भंडारा से समापन किया जाएगा. पंडाल में सुरक्षा व्यवस्था के लिहाज से एक दर्जन सीसीटीवी लगाए जाएंगे और वालेंटियर तैनात किए जाएंगे.