नई दिल्लीः आज सोमवार को संसद में विपक्ष ने जोरदार हंगामा किया. संसद के बजट सत्र के शुरू होते ही विपक्ष ने राजधानी दिल्ली में हो रही फायरिंग की घटनाओं को लेकर जमकर नारे बाजी की. विपक्ष ने दिल्ली में बढ़ती हुई गोलीबारी की घटना को लेकर सरकार पर निशाना साधा. Also Read - 7th Pay Commission: लाखों केंद्रीय कर्मियों के लिए खुशखबरी! DA को लेकर आई यह अच्छी खबर...

वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर जैसे ही अपनी बात रखने के लिए खड़े हुए उसी दौरान विपक्ष ने गोली मारना बंद करो के नारे लगाना शुरू कर दिया. जब तक अनुराग ठाकुर अपना जवाब पढ़ते रहे तब तक विपक्षी दल सदन में हंगामा करते रहे. Also Read - नितिन गडकरी ने कहा-शहरी इलाकों में सड़कों पर बनाएंगे फुटपाथ और साइकिल ट्रैक

आपको बता दें कि अनुराग ठाकुर ने एक चुनावी रैली के दौरान जनसभा को संबोधित करते हुए भीड़ को गोली मारो के उकसावे वाले नारे लगावाए थे जिसके बाद चुनाव आयोग से उनको नोटिस भी जारी हुआ था. इस पूरे मामले में चुनाव आयोग ने अनुराग ठाकुर पर कार्रवाई करते हुए उन्हें भाजपा के स्टार चुनाव प्रचारक की लिस्ट से हटा दिया था और साथ ही उन पर चुनावी प्रचार पर भी बैन लगाया था.

हाल ही में दिल्ली में चार दिन के अंदर फायरिंग की तीन घटनाएं सामने आई हैं. इसको लेकर विपक्ष सरकार से सवाल करके उसे घेरने का प्रयास कर रही है. विपक्ष का कहना है कि अनुराग ठाकुर के बयान के बाद से ही राजधानी में गोलीबारी शुरू हुई है और सरकार को उनके खिलाफ कार्रवाई करना चाहिए.

आपको बता दें कि कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस, वाम दलों, राष्ट्रीय जनता दल और कुछ अन्य दल पहले ही संशोधित नागरिकता कानून (CAA), राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (NPR) और राष्ट्रीय नागरिक पंजी (NRC) पर तत्काल चर्चा की मांग लेकर राज्यसभा में स्थगन प्रस्ताव दे चुके हैं. सभी विपक्षी दल लोकसभा में कार्रवाई शुरू होते ही संशोधित नागिरकता कानून और एनपीआर को लेकर शोरशराबा करने लगे. वे सरकार से इन कानून को रोकने की मांग कर रहे थे.