Parliament Monsoon Session 2021: पूर्व केंद्रीय मंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता रवि शंकर प्रसाद ने लगातार हंगामे के कारण संसद के मानसून सत्र में व्यवधान पड़ने पर विपक्ष पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा है कि संसद के दोनों सदनों में व्यवधान के कारण अब तक 130 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है. पूर्व कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने मीडिया से कहा कि आज 5 अगस्त का शुभ दिन है. 2 वर्ष पहले आज ही के दिन अनुच्छेद 370 समाप्त हुआ. पिछले साल इसी दिन प्रभु राम के भव्य राम जन्मभूमि मंदिर का शिलान्यास हुआ और आज फिर हॉकी टीम की जीत से देश में खुशी और उल्लास है.Also Read - सदन में भावुक हुए वेंकैया नायडू, आंखों में छलक आए आंसू, कहा-कल जो हुआ, उससे बहुत दुखी हूं

रवि शंकर प्रसाद ने कहा कि कांग्रेस ने 1947 के बाद से करीब 50 साल राज किया. लेकिन आज उनका व्यवहार कितना उचित है ये देश को जानना जरूरी है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस का एक सीधा मंत्र है कि परिवार का हित जब तक संसद साधेगी, तब तक संसद चलने दी जाएगी. जहां परिवार का हित नहीं होगा, वहां संसद नहीं चलने दी जाएगी. रवि शंकर ने कहा कि कोविड को लेकर कांग्रेस पार्टी की गंभीरता बस इतनी ही है कि प्रधानमंत्री जी ने जब बैठक बुलाई थी, उसमें में कांग्रेस पार्टी शामिल नहीं हुई थी. आज हम संसद में चर्चा के लिए तैयार हैं, लेकिन कांग्रेस की कोई गंभीरता नहीं है. Also Read - Karnataka News: बीएस येदियुरप्पा के बेटे का मंत्रिपद से कटा टिकट, पहले डिप्टी सीएम बनाने को तैयार थी पार्टी

रवि शंकर प्रसाद ने कहा कि पेगासस पर मंत्री का वक्तव्य हुआ तो इन लोगों ने उसे मंत्री के सामने फाड़ दिया. कोई गंभीरता इन लोगों में नहीं है. क्या आज तक इन्होंने कोई सबूत दिया है कि इनका फोन टेप हुआ है? नहीं. रवि शंकर ने कहा कि लगातार व्यवधान के कारण संसद ना चलने से अभी तक 130 करोड़ रुपए का नुकसान हो चुका है. हम संसद में चर्चा के लिए तैयार हैं. बहुत तीखे सवाल भी हमें कांग्रेस पार्टी से पूछने हैं. लेकिन एक सवाल ईमानदारी से हम पूछते हैं कि क्या कांग्रेस पार्टी और विपक्ष संसद में चर्चा चाहते हैं? Also Read - Parliament Monsoon Session 2021: राज्यसभा में हंगामा कर रहे TMC के 6 सांसद निलंबित, सभापति ने पहले किया था आगाह