काठमांडू. भारत में पतंजलि के प्रोडक्ट की क्वालिटी पर कई सवाल खड़े हो चुके हैं. लेकिन अब नेपाल ने से पतंजलि को झटका लगा है. नेपाल के दवा नियामक ने पतंजलि आयुर्वेद के छह मेडिकल प्रोडक्ट को लैब टेस्ट में फेल कर दिया है. टेस्ट में इन प्रोडक्ट्स क्वालिटी ठीक न होने के कारण उनकी बिक्री पर लगा दी है.

नेपाल के स्वास्थ्य मंत्रालय ने पतंजलि को उनकी छह आयुर्वेदिक दवाओं को परीक्षण में फेल होने के बाद उन्हें वापस लेने को कहा है. दवा प्रशासन विभाग ने एक सार्वजनिक नोटिस में कहा कि उत्तराखंड स्थित दिव्य फार्मेसी में बनी छह दवाएं परीक्षण में घटियां पायी गयीं.परीक्षण में जो पतंजलि 6 प्रोडक्ट टेस्ट में फेल हुए उनमे आमला चूर्ण, दिव्य गसार चूर्ण, बहुची चूर्ण, त्रिफला चूर्ण, अश्वगंधा और अद्वेय चूर्ण हैं. खबरों के मुताबिक टेस्ट के दौरान दवाओं के खेप का विभाग द्वारा परीक्षण किया गया और उनमें रोगजनक बैक्टेरिया मिले.

गौरतलब हो कि पतंजलि द्वारा निर्मित 40 प्रतिशत प्रोडक्ट्स क्वालिटी टेस्ट में फेल हो गए थे. एक आरटीआई के जवाब में यह खुलासा हुआ कि हरिद्वार के आयुर्वेद और यूनानी कार्यालय में फेल हुए है. हिंदुस्तान टाइम्स की खबर के अनुसार 82 प्रोडक्ट्स के नमूनों का टेस्ट किया गया था और उसमे 32 ऐसे प्रोडक्ट निकले जो क्वालिटी परीक्षण में फेल निकले. इन सभी प्रोडक्ट को साल 2013 से 2016 की इकट्ठा किया गया था.